The Ashes 2017-18, 1st Test preview: England will rewrite history or Australia will have a close win
इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया ब्रिसबेन के गाबा स्टेडियम में पहला एशेज टेस्ट मैच खेलेंगे © Getty Images

ब्रिस्टल के पब के बाहर बेन स्टोक्स के मारपीट विवाद के बाद से शुरू हुई बयानबाजी पर कल विराम लगेगा, जब इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीमें एशेज का पहला टेस्ट खेलने के लिए ब्रिसबेन की जमीन पर उतरेंगी। दूसरे विश्व युद्ध के समय से दोनों टीमों के बीच चली आ रही इस दुश्मनी को हाल की बयानबाजी ने और भड़का दिया है। बयानबाजी को अलग रखें और केवल आंकड़ों की बात करें तो गाबा स्टेडियम पर मेहमान टीम का रिकॉर्ड कुछ खास नहीं है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए 98 टेस्ट मैचों में से इंग्लैंड ने केवल 23 मैच जीते हैं। वहीं मेजबान टीम ने कुल 50 मैचों में जीत हासिल की है। इंग्लैंड टीम 1986 के बाद से इस मैदान पर जीत हासिल करने में नाकाम रही है।

स्टीवन स्मिथ और जो रूट की कप्तानी में दो युवा टीमें कल गाबा स्टेडियम में पहला एशेज टेस्ट खेलने उतरेंगी। इनमें से कई खिलाड़ी ऐसे हैं, जिनके लिए ये पहली एशेज सीरीज होगी। वैसे मैथ्यू हेडन की मानें तो आधी इंग्लैंड टीम ही नई है, खैर आज दोनों ही टीमों ने पहले टेस्ट मैच के लिए टीम का ऐलान कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया ने चोटिल डेविड वॉर्नर की जगह ग्लेन मैक्सवेल को कवर के तौर पर बुलाया। हालांकि वॉर्नर के खेलने की संभावना ज्यादा है। वहीं विकेटकीपिंग के लिए भी ऑस्ट्रेलिया टीम के पास टिम पेन और कैमरून बैंक्रॉफ्ट के रूप में दो विकल्प हैं। मैथ्यू वेड ने भले ही कैमरून का समर्थन किया हो लेकिन पेन के गाबा टेस्ट में खेलने की ज्यादा उम्मीदें हैं। युवा सलामी बल्लेबाज मैथ्यू रैनशॉ को भी शॉन मार्श के विकल्प के तौर पर टीम में शामिल किया गया है।

एशेज सीरीज: पहले टेस्ट के लिए दोनों टीमों का ऐलान
एशेज सीरीज: पहले टेस्ट के लिए दोनों टीमों का ऐलान

ऑस्ट्रेलिया टीम में बल्लेबाजी और विकेटकीपिंग को लेकर कुछ परेशानी जरूर है लेकिन गेंदबाजी में कोई समस्या नहीं है। मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस, जॉश हेजलवुड और नाथन लॉयन के साथ कंगारू टीम इंग्लैंड के बल्लेबाजों की मेजबानी के लिए पूरी तरह से तैयार है। गाबा कि पिच भी तेज गेंदबाजों पर मेहरबान रही है। वैसे इंग्लैंड के पास भी जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और क्रिस वोक्स जैसे खिलाड़ी हैं जो इन परिस्थितियों का फायदा उठा सकते हैं।

इंग्लैंड की बल्लेबाजी की बात करें तो यहां कई बड़े नाम दिखते हैं। एलेस्टर कुक, कप्तान जो रूट, मोइन अली, जॉनी बियरस्टो के साथ क्रिस वोक्स भी बल्ले के साथ कमाल दिखा सकते हैं। कुक और रूट पर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने की पूरा जिम्मा रहेगा, अगर ऑस्ट्रेलिया ये मैच जीतना चाहती है तो उनका पूरा ध्यान इन दो खिलाड़ियों को पवेलियन में बिठाने पर रहेगा।

मौसम की बात करें तो ब्रिसबेन में पिछले कुछ दिनों से हल्की बारिश हो रही है, जिस वजह से मौसम सर्द है। वैसे इंग्लैंड टीम इस तरह के मौसम से अच्छी तरह वाकिफ है और उनके लिए ये कुछ मददगार साबित हो सकता है।

ऑस्ट्रेलिया टीम: डेविड वॉर्नर, कैमरन बैनक्रॉफ्ट, उस्मान ख्वाजा, स्टीवन स्मिथ (कप्तान), पीटर हैंड्सकॉम्ब, शॉन मार्श, टिम पेन, मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड, नाथन लायन।

इंग्लैंड टीम: जो रूट (कप्तान), मोईन अली, जेम्स एंडरसन, जॉनी बेयरस्टो, जेक बॉल, स्टुअर्ट ब्रॉड, एलेस्टर कुक, डेविड मलान, मार्क स्टोनमैन, जेम्स विंस, क्रिस वोक्स।