This session may be the last tournament for MS Dhoni as Chennai’s captain
Mahendra Singh Dhoni

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इंडियन टी20 लीग के पिछले सीजन में धमाकेदार वापसी करते हुए बल्लेबाजी और कप्तानी दोनों में एक बार फिर से अपना लोहा मनवाया। दो साल के प्रतिबंध के बाद वापसी करते हुए चेन्नई ने खिताब अपने नाम किया। अब ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि यह शायद उनका आखिरी टूर्नामेंट हो।

पहले टेस्ट क्रिकेट और फिर कप्तानी छोड़ने के बाद अब ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि शायद इंग्लैंड में खेले जाने वाले आईसीसी विश्व कप के बाद धोनी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। अगर ऐसा होता है तो फिर संभव है वह इंडियन टी20 लीग से भी संन्यास की घोषणा कर दें।

सचिन तेंदुलकर ने 2013 में किया था ऐसा

पूर्व भारतीय दिग्गज सचिन तेंदुलकर ने साल 2013 में मुंबई के इंडियन टी20 लीग चैंपियन बनने के बाद टूर्नामेंट से संन्यास की घोषणा कर दी थी। इसी साल वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

पिछले सीजन में धोनी की धमाकेदार वापसी

इंडियन टी20 लीग के पिछले सीजन में धोनी का बल्ला जमकर चला था। मैदान पर उनका पुराना विस्फोटक अंदाज देखने को मिला था। धोनी ने चेन्नई की तरफ से इस सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाए थे। 16 मुकाबलों में उनके बल्ले से 75.83 की औसत से कुल 455 रन आए थे। इसमें 9 मुकाबले में वह नाबाद लौटे थे और उनके बल्ले से कुल 30 छक्के देखने को मिले थे।

याद है 34 गेंद पर नाबाद 70 रन की पारी

विराट कोहली की टीम के खिलाफ धोनी ने छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए महज 34 गेंद पर 7 छक्के और एक चौके की मदद से नाबाद 70 रन की पारी खेल जीत हासिल की थी। धोनी मैच में प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए थे।