Virat kohli is Only captain to score 1,000 Test runs in three consecutive years
Virat kohli@ ians

दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार भारतीय कप्तान विराट कोहली ने लगातार तीसरे साल टेस्ट में हजार रन बनाए हैं। कोहली ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट में 139 रन की पारी खेली।

विराट कोहली ने अपना शानदार फॉर्म जारी रखते हुए लगातार तीसरे साल टेस्ट में हजार रन का आंकड़ा पार किया है। राजकोट टेस्ट में दूसरे दिन लंच पर जाने के समय कोहली 999 रन बनाकर खेल रहे थे। शुक्रवार को पारी का 121वां रन बनाते ही उन्होंने इस साल हजार टेस्ट रन पूरे कर लिए।

पहले भारतीय बने विराट कोहली

भारत की तरफ से विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में लगातार तीसरे साल हजार से ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। विराट कोहली साल 2016 में 1215 रन, साल 2017 में 1059 रन जबकि इस साल अब तक वह 1018 रन बना चुके हैं। सचिन ने 2001 और 2002 में ऐसा किया था जबकि राहुल द्रविड़ लगातार दो साल हजार रन नहीं बना पाए थे।

विराट कोहली इकलौते कप्तान 

टेस्ट क्रिकेट में लगातार तीन साल हजार रन बनाने वाले विराट कोहली पहले कप्तान हैं। इससे पहले कोई भी बल्लेबाज कप्तानी के दौरान यह कारनामा नहीं कर पाया था।

ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन सबसे आगे

टेस्ट क्रिकेट में लगातार पांच साल हजार या उससे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन के नाम है। हेडन ने साल 2001 से 2005 के बीच टेस्ट क्रिकेट में हजार रन बनाए थे। पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ 4 बार यह कारनामा कर दूसरे नंबर पर हैं। विराट कोहली ने तीसरे साल हजार टेस्ट रन बनाकर पूर्व वेस्टइंडीज दिग्गज ब्रायन लारा, इंग्लैंड बल्लेबाज मार्कस ट्रेस्कोथिक और केविन पीटरसन की बराबरी कर ली है।