© AFP
© AFP

रन मशीन विराट कोहली रनों का अंबार लगा रहे हैं। ऐसा मालूम होता है जैसे शतक और दोहरे शतक बनाना उनके बाएं हाथ का खेल हो। श्रीलंका के खिलाफ दिल्ली टेस्ट के पहले दिन अपने टेस्ट का 20वां शतक जमाने वाले विराट कोहली ने मैच के दूसरे दिन पहले सेशन में ही दोहरा शतक जमा दिया। कोहली ने ये दोहरा शतक महज 238 गेंदों में पूरा किया और इसके साथ ही उन्होंने कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा 6 दोहरे शतकों के रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया। इसके पहले येरिकॉर्ड ब्रायन लारा के नाम था जिन्होंने 5 दोहरे शतक जमाए थे। कोहली ने ये दोहरा शतक लगाने के बाद कई रिकॉर्ड्स अपने नाम कर डाले। आइए नजर डालते हैं इन रिकॉर्ड्स पर।

लगातार दो दोहरे शतकों का रिकॉर्ड: नागपुर टेस्ट में 213 रनों की पारी खेलने वाले कोहली ने दिल्ली टेस्ट की पहली पारी में भी दोहरा शतक ठोक दिया। इस तरह से विराट कोहली लगातार दो पारियों में दो दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के छठवें और भारत के दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। भारत की ओर से उनके पहले यह कारनामा विनोद कांबली कर चुके हैं। कांबली ने 1992-93 में जिम्बाब्वे के खिलाफ 224 और 227 रनों की पारी खेली थी। वहीं इस कारनामे को करने वाले अन्य बल्लेबाज डॉन ब्रैडमेन, कुमार संगकारा, वैली हेमंड और माइकल क्लार्क हैं।

एक कैलेंडर ईयर में 3 दोहरे शतक का रिकॉर्ड: विराट कोहली का ये 2017 में तीसरा दोहरा शतक है। इस तरह से वह लगातार दो कैलेंडर ईयर में 3-3 दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। इससे पहले साल 2016 में भी उन्होंने 3 दोहरे शतक लगाए थे। एक कैलेंडर ईयर में 3 दोहरे शतक लगाने का रिकॉर्ड डॉन ब्रैडमैन 1930, रिकी पोंटिंग 2003, माइकल क्लार्क 2012 और ब्रैंडन मैक्कलम 2014 के नाम है।

विराट कोहली ने जड़ा छठा दोहरा शतक, बना डाला विश्व रिकॉर्ड
विराट कोहली ने जड़ा छठा दोहरा शतक, बना डाला विश्व रिकॉर्ड

साल 2017 में सबसे ज्यादा शतक: विराट कोहली ने 20वां शतक लगाते ही मौजूदा कैलेंडर ईयर में पांचवां शतक लगा दिया। इसके साथ ही साल 2017 में सबसे ज्यादा टेस्ट शतक लगाने के मामले में उन्होंने डीन एल्गर की बराबरी कर ली है।

अपने घरेलू मैदान पर दोहरा शतक जड़ने वाले पांचवें भारतीय: विराट कोहली ने अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला पर दोहरा शतक जमाया है। इसके साथ ही वह अपने घरेलू मैदान पर दोहरा शतक जमाने वाले भारत के पांचवें खिलाड़ी बन गए हैं। गौर करने वाली बात है कि इस मैच के पहले कोहली के नाम इस मैदान पर कोई शतक भी नहीं था। उनके पहले अपने घरेलू मैदान पर दोहरे शतक जमाने वाले भारतीय खिलाड़ी दिलीप सरदेसाई, सुनील गावस्कर, विनोद कांबली और गौतम गंभीर हैं।