विराट कोहली को रोकना नामुमकिन
Photo credit: hdwallpapersz.in

मौजूदा समय में विराट कोहली दुनिया के सबसे धुरंधर बल्लेबाजों में एक है। क्रिकेट के तीनों प्रारूपों में वो लगातार रन बना रहे हैं, लेकिन सीमित ओवरों की क्रिकेट में विराट का जवाब नहीं है। खासकर क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप T20I में तो विराट को रोकना नामुमकिन सा नजर आता है। विराट ने अपने T20I करियर की शुरूआत जिंबाब्वे के खिलाफ 2010 में की थी। करियर के शुरूआती दौर में विराट का T20I मैचों में प्रदर्शन बहुत साधारण ही रहा, लेकिन धीरे-धीरे विराट ने अपने खेल के स्तर के ऊपर उठाया और आज वो इस मुकाम पर हैं कि किसी भी गेंदबाज के लिए उनका विकेट चटकाना किसी खजाने के हाथ लगने जैसा है। अगर साल 2016 में विराट के प्रदर्शन पर नजर डाले तो आपको अंदाजा हो जाएगा कि मौजूदा क्रिकेट में विराट किस प्रभुत्व के साथ रन बना रहे हैं। तो आईए आपको विराट के T20I के कुछ आंकड़ों के बारे में बताते हैं।

Virat Kohli Unstoppable in 2016
Photo credit: dawn.com

साल 2016 से पहले विराट ने अपने करियर में कुल 30 T20I मैच खेले थे जिनमें उन्होने 44.17 की औसत से कुल 1016 रन बनाए थे। इन 30 मैचों के दौरान उनके बल्ले से 9 अर्धशतकीय पारियां निकली थी। अब जरा नजर डालते हैं 2016 में विराट के प्रदर्शन पर साल 2016 में विराट ने 13 T20I मैचों में कुल 625 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका औसत 125 रहा।

Virat Kohli Unstoppable in 2016
Photo credit: bcci.tv

जिस विराट ने 30 मैचों में कुल 9 पचास या उससे ज्यादा की पारियां खेली थी उसने इन 13 मैचों में 7 बार पचास रन के आंकड़े को छुआ। विराट को रोकना किस हद तक नामुमकिन रहा इस बात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इन 13 मैचों में वो 7 बार नाबाद पवेलियन लौटे। यानी विरोधी टीम के गेंदबाज उनको आउट करने में नाकाम रहे।

Virat Kohli Unstoppable in 2016
Photo credit: Getty Images

कोई भी बल्लेबाजी दबाव में कैसी बल्लेबाजी करता है इससे इस बात का पता चलता है कि वो कितना बड़ा बल्लेबाज है। एक अच्छे बल्लेबाज की दबाव झेलने की क्षमता ही उसको महान खिलाड़ी बनाती है। विराट को लक्ष्य का पीछा करने का माहिर माना जाता है। इस साल ने लक्ष्य का पीछा करते हुए उन्होने करिश्माई बल्लेबाजी का सफर जारी रखा। 2016 में विराट ने लक्ष्य का पीछा करते हुए कुल 8 मैचों में 356 रन बनाए। इस दौरान विराट का औसत 118.66 रहा। जबकि 8 मैचों में 4 बार विरोधी गेंदबाज उनका विकेट लेने में नाकाम रहे।

Virat Kohli Unstoppable in 2016
Photo credit: cricinfo

विराट ने अब तक खेले अपने 43 T20I मैचों में 1641 रन बनाए हैं। विराट T20I मैचों में सबसे तेज1,500 रन बनाने वाले बल्लेबाज भी हैं। विराट ने 1,500 रन बनाने के लिए 39 पारियों का सहारा लिया। विराट से पहले ये रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल के नाम था जिन्होने 45 पारियों में 1,500 रन बनाए थे।

Virat Kohli Unstoppable in 2016
Photo Source: PTI

अब बात करते हैं आईपीएल की यहां भी विराट ने अपने शानदार खेल से सबको चौंकाया। रॉयल चैलेंजर बैंगलोर के कप्तान के रूप में विराट ने आगे बढ़कर टीम को लीड किया। इस साल खेले 16 मैचों में विराट ने 81 के जादुई औसत से 973 रन बनाकर सारे रिकॉर्ड तोड़ते हुए टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। इससे पहले कोई भी बल्लेबाज आईपीएल में 900 रनों के आंकड़े को नहीं छू सका था। इसके अलावा विराट ने इस टूर्नामेंट में 1 सीजन में 4 शतक जमाने का कारनामा भी अंजाम दिया। 4 शतक के अलावा विराट के बल्ले से 7 अर्धशतक भी निकले।

विराट के इन आंकड़ों को देखकर आपको अंदाजा हो गया होगा कि विराट किस तरह की फॉर्म में हैं और आखिर क्यों दुनिया भर में क्रिकेट का हर जानकार ये कह रहा है कि विराट को रोकना नामुमकिन हो गया है।