Virat Kohli’s 40th odi ton, Ravindra Jadeja’s bullet, Vijay Shankar’s redemption

भारतीय टीम ने नागपुर वनडे में रोमांचक जीत हासिल कर ऑस्ट्रेलिया पर सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल की। इस मैच में टीम इंडिया ने शानदार खेल दिखाते हुए मुश्किल हालात में वापसी की और जीत तक पहुंची।

बल्लेबाजी में विराट कोहली ने वनडे में 40वां शतक बनाया तो रविंद्र जडेजा ने शानदार फील्डिंग से टीम की वापसी कराई। विजय शंकर का दबाव में किया गया अंतिम ओवर भी भारतीय फैंस को लंबे समय तक याद रहेगा।

विराट कोहली का 40वां वनडे शतक

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर से मुश्किल हालात में टीम के लिए शतक जमाया। विराट ने पहले ओवर की आखिरी गेंद पर रोहित शर्मा के आउट होने के बाद मैदान पर कदम रखा। जब वह मैदान से वापस लौटे तो भारत का स्कोर 248 रन था और उनके खाते में 40वां वनडे शतक आ चुका था। मुश्किल हालात में 120 गेंद पर 116 रन की पारी, जिसमें चौथे विकेट के लिए विजय शंकर के साथ 81 रन और रविंद्र जडेजा के साथ सातवें विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी शामिल थी।

मैच के बाद ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच ने कहा, “इस मैच में विराट कोहली ने अंतर पैदा किया। अगर हमारे किसी एक बल्‍लेबाज ने भी ऐसी बल्‍लेबाजी की होती तो हम मैच जीत चुके होते।”

रविंद्र जडेजा का शानदार थ्रो

पीटर हैंड्सकॉम्ब 59 गेंद पर 48 रन बनाकर अपने अर्धशतक की तरफ बढ़ रहे थे। पांचवें विकेट के लिए मार्कस स्टोइनिस के साथ 39 रन जोड़ चुके थे। 37.3 ओवर में उन्होंने रन चुराने की कोशिश की और रविंद्र जडेजा के शानदार थ्रो ने उनको वापस पवेलियन भेज दिया। यहां से मैच बदला, स्टोइनिस और एलेक्स कैरी की साझेदारी छोड़ दें तो टीम कोई और भागेदारी नहीं कर पाई।

विजय शंकर का आखिरी रोमांचक ओवर

कप्तान विराट ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पारी का आखिरी ओवर विजय शंकर को दिया। भारत को 11 रन का बचाव करना था और सामने 52 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे स्टोइनिस थे। विजय ने पहली ही गेंद पर भारत को विकेट दिला दिया इसके बाद तीसरी गेंद पर एडम जाम्पा को बोल्ड कर भारत को जीत दिला दी।

विजय शंकर ने आखिरी ओवर करते हुए ना सिर्फ सटीक गेंदबाजी की बल्कि विश्व कप की उनकी दावेदारी को भी मजबूत किया।