Virat Kohli’s India India look to emulate 50-year-old record at Southampton
Virat Kohli with team © PTI

दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम भारत के पास इंग्लैंड की धरती पर 50 साल पुराने भारतीय रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका है। पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में लगातार दो मैच हारने के बाद विराट कोहली की टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरा टेस्ट जीतकर सीरीज में वापसी की है। अब उसके सामने साउथहैम्पटन टेस्ट जीतकर 50 साल पुराने इतिहास को दोहराने का मौका होगा।

इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम और लॉर्ड्स में हारने के बाद भारतीय टीम ने 203 रन की धमाकेदार जीत दर्ज करते हुए वापसी की है। अब उसके सामने साउथहैम्पटन का टेस्ट जीतकर सीरीज में बराबरी करने के साथ विदेशी धरती पर एक सीजन में तीन टेस्ट जीतने का भी मौका है।

एक सीजन में एशिया के बाहर तीन टेस्ट जीतने का मौका

भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका में एक जोहान्सबर्ग टेस्ट में जीत हासिल की थी जबकि नॉटिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ भी मैच अपने नाम किया। इस सीजन में भारत ने एशिया के बाहर दो जीत दर्ज की है और बाकी बचे मैच जीतकर साल 1968 में मंसूर अली खान पतौदी के 3 टेस्ट जीत के रिकॉर्ड तोड़ सकती है।

कोहली तोड़ेंगे पतौदी का रिकॉर्ड !

साल 1968 में न्यूजीलैंड के दौरे पर भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज में 3-1 से जीत हासिल की थी। यह एक सीजन में और एशिया के बाहर किसी भी टेस्ट सीरीज में भारत की सबसे बड़ी जीत है। मंसूर अली खान पतौदी की कप्तानी में 50 साल पहले किए इस कारनामें को विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम तोड़ सकती है।