एबी डीविलियर्स भी अजीबो-गरीब ढंग से आउट होने के बाद ठगे से रहे गए थे
एबी डीविलियर्स भी अजीबो-गरीब ढंग से आउट होने के बाद ठगे से रहे गए थे

एबी डीविलियर्स का नाम जब भी क्रिकेटप्रेमियों के जेहन में आता है तो उनके दिमाग में एक ऐसे बल्लेबाज की छवि बनती है जो अपने बल्ले का किसी जादुई छड़ी की तरह इस्तेमाल करता है और अपनी शॉट्स से गेंदबाज को भौंचक्का छोड़ देता है। डीविलियर्स आधुनिक क्रिकेट के एक ऐसे क्रिकेटर हैं जो मैदान में 360 डिग्री में कहीं भी शॉट खेलने में माहिर है। इसी वजह से डीविलिर्स सबके चहेते हैं। विरोधी टीम के खिलाफ डीविलियर्स जब भी बल्लेबाजी के लिए उतरते हैं दर्शकों का मन झूमने लगता है, क्योंकि वे यह जान जाते हैं कि अब असली इंटरटेनमेंट शुरू होने वाला है।

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जितने विस्फोटक आज डीविलियर्स दिखाई देते हैं, अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत में उन्हें भी कुछ दिनों तक जूझना पड़ा था। एक बार वह शॉन टेट की एक तेज गेंद से घायल होत-होते बचे थे और उसी दौरान हिट विकेट होकर उन्होंने अपना विकेट गंवा दिया। शॉन टेट विश्व क्रिकेट में तीसरे सबसे तेज गेंदबाज हैं। शॉन टेट के नाम 161.1 किमी./घंटा की रफ्तार से तेज गेंद फेंकने का रिकॉर्ड दर्ज है। शॉन टेट के आगे ब्रेट ली 161.3 किमी/प्रति घंटा और शोएब अख्तर 161.9 किमी/घंटा का नाम है।

यह वाकया दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे एक टी20 मैच का है। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 183 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 1 रन पर ही पहला विकेट गंवा दिया। दूसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए डीविलियर्स ने शॉन टेट की 155.4 किमी./घंटे की तेज रफ्तार वाली गेंद पर पुल शॉट लगाने की कोशिश की लेकिन डीविलियर्स गेंद की तेजी को भांप नहीं पाए और गेंद उनके पेट से जाकर टकराई। डीविलियर्स गेंद के लगने के तुरंत बाद जमीन पर बैठने की ओर झुके और इसी दौरान उनका बल्ला स्टंप्स से टकरा गया और वे अपना विकेट गंवा बैठे। डीविलियर्स ने शायद टेट की इस गेंद से सीख ले ली थी और आगे के मैचों में उन्होंने टेट समेत ऑस्ट्रेलिया के सभी प्रमुख गेंदबाजों की जमकर खबर ली। आपको बता दे कि डीविलियर्स ऑस्ट्रेलिया के मिचेल जॉनसन की शॉर्ट पिच गेंदों को सबसे बढ़िया तरीके से खेलते हैं।