जब एम एस धोनी ने भूत बनकर नाइट गार्ड्स को डराया
फोटो साभार: AFP

ये तो अमूमन हर क्रिकेटप्रेमी जानता है कि महेंद्र सिंह धोनी क्रिकेट मैदान पर अक्सर अपनी टीम के खिलाड़ियों के साथ हंसी मजाक करते रहते हैं। कभी वे फील्डिंग के दौरान विदेशी बल्लेबाजों को चौंकाने के लिए कोड वर्ड में बातें करते हैं तो कभी बातों ही बातों में ऐसी रणनीति बुन लेते हैं कि उसका ओर- छोर विपक्षी खिलाड़ी को पता ही नहीं होता। उनकी इसी मसखरी का ही असर है कि उनके साथ चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेल चुके ड्वेन ब्रावो अक्सर क्रिकेट मैदान पर उनसे मजाक करने को आ जाते हैं। अगर आप सोच रहे हैं कि धोनी में ये शरारतीपन टीम इंडिया का कप्तान बनने के बाद आया है तो आप पूरी तरह से गलत हैं बल्कि धोनी टीम इंडिया में आने से पहले से ही शरारती थे। एक बार तो उन्होंने शरारत करते हुए ही अपने दोस्तों के साथ भूत बनकर गार्ड्स को डरा दिया था।

When MS Dhoni spooked guards by becoming ghost
फोटो साभार: www.deccanchronicle.com

यह बात उस समय की है जब धोनी खड़गपुर रेलवे स्टेशन में टिकिट कलेक्टर थे। गौरतलब है कि धोनी ने इस स्टेशन पर साल 2001 से 2003 तक जॉब की। इस दौरान वह रेलवे क्वाटर्स में रहते थे। एक दिन धोनी और उनके दोस्तों ने खुद को सफेद चद्दर से ढक लिया और देर रात क्वार्टर कॉम्प्लेक्स के आस- पास घूमने लगे। इस वक्त कॉम्पलेक्स में ड्यूटी कर रहे नाईट गार्डस ने जब अजीब चाल-ढाल और चद्दरों से ढके लोगों को देखा तो उन्हें लगा कि जरूर ये कोई प्रेत- आत्मा है और वे डर गए।

यह बात उनके साथ खड़गपुर रेलवे स्टेशन पर काम करने वाले एक सहकर्मी ने एक अखबार से बातचीत में साझा की थी। उसने बाद में बताया था कि अगले दिन यह बात पूरे कॉम्पलेक्स में फैल गई कि रात को भूत आया था। लेकिन कोई भी इस बात को पता लगाने में कामयाब नहीं हो पाया कि ये हरकत धोनी और उनके दोस्तों ने की थी।

When MS Dhoni spooked guards by becoming ghost
फोटो साभार: www.ebay.com

भले ही धोनी ने दूसरों को एक झूठा भूत बनकर डरवाया हो, लेकिन साल 2014 में इंग्लैंड दौरे के दौरान एक होटेल रूम में जब धोनी ठहरे थे तब उन्हें एक भूत का साया दिखाई दिया था और वह उससे बुरी तरह से डर गए थे। जिसके बाद धोनी ने फौरन वहां से अपना कमरा बदलवाया था। यह कोई वहम नहीं था बल्कि वास्तव में उस होटेल रूम में कई लोगों को पहले भी भूत दिखाए दिए हैं।

लैंघम होटल, लंदन: लंदन का लैंघम होटल किसी अन्य होटलों के मुकाबले बेहद जुदा है। यहां सेलीब्रिटीज का दिखना एक आम बात है। यह होटल नामी-गिरामी गायकों से लेकर, क्रिकेटरों और फिल्म स्टारों की पहली पसंद है। हालांकि 2014 में इंग्लैंड के क्रिकेटर स्टुअर्ट ब्रॉड ने होटल स्टाफ से फौरन अपने कमरे को बदलने के लिए कहा। ब्रॉड के साथ उनके साथी क्रिकेटरों बेन स्टोक्स, और भारतीय टीम के कप्तान ने भी यह बात दुहराई थी।

When MS Dhoni spooked guards by becoming ghost
फोटो साभार: Wikipedia

उन्होंने इसके पीछे किसी के साए के होटेल रूम में घूमने की बात कही थी। ब्रॉड ने एक अंग्रेजी अखबार के साथ साक्षात्कार में कहा था, ‘श्रीलंका के साथ खेले जा रहे टेस्ट मैच के दौरान मुझे कमरा बदलना पड़ा था। मेरा कमरा बहुत गर्म था जिसके कारण मैं सो नहीं पा रहा था। इतने में ही मुझे बाथरूम से ठप-ठप की आवाजें सुनाई दीं। मैंने लाइट ऑन की और ठप-ठप अपने आप बंद हो गया और जब एक बार फिर से मैंने लाइट ऑफ की तो ठप-ठप की आवाजें फिर से सुनाई देने लगीं।

इतनी अजीब-अजीब आवाजें सुनकर मैं बुरी तरह से डर गया। इसी दौरान जब मैं एक रात 1.30 बजे जगा तो मुझे ऐसा महसूस हुआ कि कमरे में कोई है और मेरे मन में अजीब-अजीब से ख्याल आने लगे। मैंने फौरन होटल स्टाफ से कमरा बदलने के लिए कहा। मेरी गर्लफ्रेंड बेली भी बहुत डर गई थी। मेरे अलावा बेन स्टोक्स को भी इसी तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ा।’ इस होटल के तीसरे फ्लोर पर अक्सर ऐसी समस्याएं देखी गई हैं।’

लैंघम होटल को साल 1865 में खोला गया था। यह होटल विश्व की कई नामी-गिरामी हस्तियों की खिदमत कर चुका है। जिनमें मार्क त्वेन, ऑस्कर वाइल्ड और ऑर्थर कॉनन डॉयल शामिल हैं। इस होटल को विश्व के सबसे डरावने होटल के रूप में भी जाना जाता है। रिपोर्ट्स के आधार पर इस होटल का कमरा नंबर 333 भूतानी गतिविधियों का केंद्र है। इस होटल की वेबसाइट में लिखा हुआ है, ‘ साल 1973 में बीबीसी एनाउंसर अलेक्जेंडर-गॉर्डन इस होटेल में ठहरे हुए थे।

इसी बीच वह आधी रात को एकदम से जग उठे। उन्होंने देखा कि एक चमकदार गेंद ने धीरे-धीरे एक व्यक्ति का रूप ले लिया जो विक्टोरियन इवनिंग कपड़े पहने हुए थे। एनाउंसर ने भूत से पूछा कि वह क्या चाहता है? उसके इतना कहते ही अपने कटे हुए पैरों के साथ लगभग दो फीट हवा में उड़ता हुआ वह धीरे-धीरे एनाउंसर की ओर बढ़ने लगा। इसी बीच एनाउंसर उठा और वहां से भाग खड़ा हुआ।