जब धोनी को उनके दोस्त ने कई घंटों के लिए कर दिया था कमरे में बंद
फोटो साभार: www.india.com

टीम इंडिया में आने से पहले भारतीय टीम के सीमित ओवरों के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का परिवार एक मध्यमवर्गीय था और इसी वजह से आम युवाओं की तरह धोनी को भी अपनी रोजी रोटी चलाने के लिए खड़गपुर रेलवे स्टेशन में टिकिट कलेक्टर की नौकरी करनी पड़ी थी। लेकिन देर- सवेर धोनी के लिए क्रिकेट के दरवाजे खुलने लगे और साल 2004 में टीम इंडिया की ओर से पहली बार धोनी को खेलने का मौका मिला। धोनी ने 2006 तक आते- आते कई बड़ी पारियां खेल कर विश्व क्रिकेट में अपना खूब नाम कमाया और अब वह साधारण महेंद्र सिंह धोनी से सेलिब्रिटी बन चुके थे।

When MS Dhoni's friend locked him inside the room for hours
फोटो साभार: yourdost.com

एक क्रिकेट वेबसाइट cricketkhiladi.com में छपी खबरके मुताबिक इन्हीं दिनों की बात है कि धोनी के एक बचपन के दोस्त की बहन की शादी थी और वह धोनी को निमंत्रण देने के लिए आया। उसने देखा कि धोनी गार्डन में अपनी बाईक धोने में व्यस्त नजर आ रहे थे। धोनी ने जब दोस्त को आया हुआ देखा तो दोनों के बीच गप्पें शुरू हो गईं। धोनी ने कहा क्यों मुझे बहन की शादी में नहीं बुलाओगे?

इस बात पर उनके दोस्त ने कहा। यार अब तो तुम स्टार बन गए हो, तुम थोड़ी ही आओगे शादी में। इस पर धोनी ने कहा कि वह जरूर शादी में शरीक होंगे। धोनी ने अपने कहे मुताबिक वादा निभाया और तय समय पर दोस्त की बहन की शादी में पहुंच गए। धोनी उस समय इतने फेमस हो गए थे कि जैसे ही लोगों ने धोनी को वहां पाया उनके आस- पास लोगों का हुजूम लग गया।

When MS Dhoni's friend locked him inside the room for hours
www.cricket.com.au

धोनी के दोस्त ने देखा कि उसके मेहमानों की वजह से धोनी को परेशानी हो रही है और इससे धोनी को निजात दिलाने के लिए उनके दोस्त ने उन्हें एक सीक्रेट कमरे में बंद कर दिया और मेहमानों से कह दिया गया कि धोनी वहां से चले गए हैं। धोनी ने इसी सीक्रेट रूम में खाना भी खाया और जब सभी रिश्तेदार चले गए तब धोनी वहां से निकले। धोनी अक्सर अपने दोस्तों को लेकर दिलदार रहे हैं इसका सीधा कारण है कि उनके दोस्तों ने उकी हरकदम पर मदद की।