जब सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली ने एक ही पारी में लगाए शतक

सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली की मौजूदगी में ही भारतीय टीम बैटिंग सुपरपावर के रूप में उभरी और तीनों ने दुनियाभर के चुनिंदा गेंदबाजों की कई बार बखिया उधेड़ी। चाहे 1999 विश्व कप में राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली की श्रीलंका के विरुद्ध 300 रनों से ऊपर की साझेदारी हो या सचिन के बल्ले से साल 2000 में निकली 186 रनों की पारी। हर मौके पर इन तीनों ने भारतीय टीम को एक नया मुकाम दिलाने में अपना सबकुछ न्यौछावर कर दिया। ये तीनों साल 1996 से 2008 तक एक साथ कंधे से कंधा मिलाकर खेले।

इन्हीं सालों में एक बार इन तीनों बल्लेबाजों ने टेस्ट मैच की एक पारी में एक साथ शतक लगाकर विपक्षी गेंदबाजों को नाकों चने चबवा दिए थे। यह बात साल 2002 की है। इंग्लैंड दौरे पर गई भारतीय टीम यह अपना तीसरा टेस्ट मैच खेल रही थी। चूंकि, भारतीय टीम सीरीज में 1-0 से पीछे चल रही थी। ऐसे में यह मैच जीतना बेहद जरूरी था। पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने अना पहला विकेट सहवाग के रूप में जल्दी गंवा दिया। लेकिन उनके बाद बल्लेबाजी करने आए राहुल द्रविड़ किसी दीवार की तरह विकेट पर जम गए और 148 रन बना गए। 

वहीं जब दूसरा ओपनर आउट हुआ तो सचिन तेंदुलकर आए और उन्होंने भी गजब की बल्लेबाजी की और 193 रनों की पारी खेली। द्रविड़ के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए सौरव गांगुली ने वनडे अंदाज में बल्लेबाजी की और 167 गेंदों में 128 रन ठोक गए। गौर करने वाली बात यह रही कि इंग्लैंड के कई अनुभवी गेंदबाज जिनमें मैथ्यू होगार्ड, एंड्रयु फ्लिंटॉफ और एश्ले जाइल्स शामिल थे उन्हें इन तीनों को रोकने के लिए 30- 30 ओवर ज्यादा गेंदबाजी करनी पड़ी।

इन तीनों के शतकों की बदौलत टीम इंडिया ने पहली पारी में 8 विकेट पर 628 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी। जवाब में इंग्लैंड की पूरी टीम पहली पारी में 273 रन बनाकर आउट हो गई। भारत ने इंग्लैंड को फॉलोआन खिला दिया। फॉलोआन खेलते हुए इंग्लैंड की पूरी टीम फिर से 309 रनों पर भरभरा गई। अंततः, टीम इंडिया यह मैच एक पारी और 46 रनों से जीत गई।

इस मैच के पहले और दूसरे दिन जिस तरह से इन तीनों ने क्लासिक बल्लेबाजी की उसने अमूमन हर क्रिकेटप्रेमी का मन मोह लिया।

संक्षिप्त स्कोर: ( भारत, पहली पारी 628/8, राहुल द्रविड़ 148, सचिन तेंदुलकर 193, सौरव गांगुली 128, एंडी कैडिक150/3 ), (इंग्लैंड, पहली पारी 273, एलक स्टीवर्ट 78*, माइकल वॉन 61, हरभजन सिंह 40/3)