जहीर खान ने चारों छक्के हेनरी ओलंगो के एक ओवर में ही लगाए थे © Getty Images
जहीर खान ने चारों छक्के हेनरी ओलंगो के एक ओवर में ही लगाए थे © Getty Images

पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान ने भारतीय टीम की ओर से एक दशक से ज्यादा समय तक क्रिकेट खेली। इस दौरान उन्होंने अपनी गेंदों की स्विंग से विश्व के तमाम बड़े बल्लेबाजों को परेशान किया। जहीर का एकदिवसीय मैचों में करियर बेस्ट 42/5 विकेट रहा। जहीर ने गेंद से ही नहीं बल्कि बल्ले से भी कई मौकों पर कमाल दिखाया। आमतौर पर नौंवे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आने वाले जहीर खान से बड़े शॉट खेलने की आशा की जाती थी। जिसे उन्होंने कई बार मुकम्मल किया। जहीर ने एक बार तो चार गेंदों में चार छक्के लगाकर पूरे विश्व को चौंका दिया था। कैसे दिया जहीर खान ने इस कारनामें को अंजाम, आइए जानते हैं।

गौर करने वाली बात है कि भारत की ओर से वनडे क्रिकेट में एक ओवर में सर्वाधिक छक्के लगाने का रिकॉर्ड जहीर खान के नाम ही है। उनके अलावा एक ओवर में रोहित शर्मा भी 3 छक्के मार चुके हैं। लेकिन कोई चार या उससे ज्यादा छक्के नहीं मार पाया। वैसे टी20 में युवराज सिंह के नाम 6 छक्के मारने का रिकॉर्ड दर्ज है लेकिन वनडे में जहीर के अलावा अन्य कोई बल्लेबाज यह कारनामा नहीं कर पाया।

[ये भी पढ़ें: हार्दिक पांड्या से हजार गुना बेहतर फिनिशर हैं एमएस धोनी]

यह बात साल 2000 की है जब भारत और जिम्बाब्वे के बीच तीसरा एकदिवसीय मैच जोधपुर में खेला जा रहा था। मैच में भारत ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही और कप्तान सौरव गांगुली सस्ते में आउट हो गए। दूसरे विकेट के लिए सचिन तेंदुलकर ने राहुल द्रविड़ के साथ शतकीय साझेदारी निभाते हुए टीम को संकट से उबारा, लेकिन द्रविड़ के आउट होते ही फिर से विकटों का पतझड़ शुरू हो गया और आधी भारतीय टीम 165 के स्कोर पर पवेलियन लौट चुकी थी। 

अब एक बार फिर से भारतीय पारी पर संकट के बादल मंडराने लगे, लेकिन सचिन ने पूरे धैर्य से बल्लेबाजी करते हुए अपना शतक पूरा किया और 146 रन बनाने के बाद भारत के आठवें विकेट के रूप में आउट हुए, सचिन के क्रिकेट जीवन का यह 27वां शतक था। सचिन के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए जहीर खान ने पारी के पचासवें ओवर में जिम्बॉब्वे के गेंदबाज हेनरी ओलांगा को निशाना बनाया। 

पारी का 50वां ओवर फेंकने आए ओलांगा की चार लगातार गेंदों पर जहीर खान ने छक्के मारे। उन्होंने पहली गेंद(ओवर की तीसरी गेंद) जो कमर की ऊंचाई की फुलटॉस गेंद थी उसे मिडविकेट के ऊपर से छह रन के लिए पहुंचाया। अगली गेंद को लांग ऑन के ऊपर से एक और बड़े छक्के के लिए मारा। ओलांगा जहीर खान के तेवर देख कर बेहद परेशान हो गए। इसी उधेड़बुन में उन्होंने फिर फुलटॉस गेंद फेंक दी और फिर से जहीर ने गेंद को छक्के के लिए बाउंड्री लाइन के बाहर पहुंचाया।

जहीर के तेवरों को देखकर कमेंट्री बॉक्स में कमेंट्री कर रहे टोनी ग्रेग ने कहा, ‘जहीर खान आज राजस्थान में अपना नाम कमा रहे हैं’। जहीर खान के तेवर से बेहद परेशान नजर आ रहे ओलांगा ने अगली गेंद ऑफ स्टंप के बाहर वाइड फेंकी। इसके बाद वाली गेंद में जो हुआ वह दूसरे छक्के की हाइलाइट जैसा ही था, जब जहीर ने इस ओवरपिच गेंद पर स्ट्रेट का बड़ा छक्का मारा। जहीर ने इस तरह चार गेंदों में चार छक्के मुकम्मल किए। जहीर के दंश के कारण ओलांगा ने 4 ओवरों में 52 रन दे डाले औरर भारत ने निर्धारित 50 ओवरों में 283 रन बनाए।