Will Virat Kohli be able to break Don Bradman’s 82 year old record by winning test series after losing first two matches against England
Virat Kohli celebrates the wicket of Chris Woakes © Getty Images

भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 से पिछड़ने के बाद वापसी कर चुकी है। नॉटिंघम के तीसरे टेस्ट में विराट कोहली की टीम ने शानदार जीत दर्ज की थी। अब दुनिया की नंबर एक टीम से उनके फैंस को सीरीज जीत की आस है।

इंग्लैंड के खिलाफ टीम इंडिया को बर्मिंघम टेस्ट में 31 रन जबकि लॉर्ड्स में पारी और 159 रन से हार मिली थी। नॉटिंघम में भारतीय टीम ने वापसी करते हुए 203 रन की धमाकेदार जीत दर्ज की। विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया के पास 82 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी करने का मौका है।

बैडमैन की कप्तानी में हुआ था कमाल

साल 1936-37 के दौरान ऑस्ट्रेलिया की टीम ने 0-2 से पिछड़ने के बाद सीरीज में वापसी करते हुए इसे 3-2 से अपने नाम किया था। क्रिकेट इतिहास में ऐसा करने वाली ऑस्ट्रेलिया अकेली टीम है। एशेज सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के खिलाफ सर डॉन ब्रैडमैन की कप्तानी में यह कारनामा अंजाम दिया था।

विराट कोहली के पास रिकॉर्ड बराबर करने का मौका

नॉटिंघम टेस्ट जीतने के बाद अब विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम सीरीज जीतने की दावेदार बन गई है। साउथैम्प्टन और द ओवल में खेले जाने वाले दोनों टेस्ट में अगर टीम इंडिया जीत दर्ज करती है तो सीरीज उसके नाम हो जाएगी। इसी के साथ लगातार दो टेस्ट हारने के बाद पांच टेस्ट मैचों की सीरीज जीतने वाली वह इतिहास की दूसरी टीम बन जाएगी।

डॉन ब्रैडमैन बन सकते हैं विराट कोहली

साल 1936-37 एशेज सीरीज में कप्तानी कर रहे डॉन ब्रैडमैन ने मेलबर्न में खेले गए तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में 270 रन जबकि एडिलेड टेस्ट की दूसरी पारी में 212 रन की पारी खेली थी। वहीं आखिरी टेस्ट की पहली पारी में 169 की यादगार पारी खेली थी। भारतीय कप्तान विराट कोहली अब तक 149 और 103 रन की पारी खेल चुके हैं। उनके नाम 440 रन हैं और बाकी बचे तीन मैचों में भी इसी प्रदर्शन को बरकरार रखने की उम्मीद है।