सीनियर खिलाड़ियों के ट्वीट की जांच को Michael Vaughan ने बताया मजाक, कहा इसे रोके ECB

ऑली रॉबिन्सन के नस्लीय ट्वीट का मामला सामने आने के बाद इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) अपने खिलाड़ियों के ऐसे रवैये पर काफी सख्त है. रॉबिन्सन के बाद इंग्लैंड के कुछ सीनियर खिलाड़ियों के भी पुराने नस्लीय ट्वीट वायरल होने लगे तो ईसीबी ने उनके खिलाफ भी जांच बिठा दी है. हालांकि इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने उसके इस फैसले का विरोध किया है और कहा है कि ईसीबी को तुरंत यह फैसला वापस लेना चाहिए.

सोशल मीडिया पर इंग्लैंड के कुछ खिलाड़ियों की कथित नस्लीय टिप्पणियों की जांच की बात पर प्रतिक्रिया देते हुए पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने कहा कि देश के क्रिकेटरों की पुराने ट्वीट की जांच को रोका जाना चाहिए.

इंग्लैंड के सफेद गेंद के कप्तान इयोन मोर्गन और विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर की भारतीयों का मजाक उड़ाते कुछ ट्वीट बुधवार को सोशल मीडिया पर छा गए, जिसके बाद ईसीबी इनकी जांच कर रहा है.

https://twitter.com/MichaelVaughan/status/1402895352114692096?s=20

वॉन ने ट्वीट किया, ‘मोर्गन, बटलर और एंडरसन ने जिस समय ट्वीट किया, उस समय कोई भी इनसे आहत नहीं हुआ था, लेकिन हैरानी की बात है कि कुछ वर्षों बाद अब ये ट्वीट आपत्तिजनक कैसे हो गए. बहुत ही हास्यास्पद. इस जांच को रोका जाना चाहिए.’

ईसीबी ने तेज गेंदबाज ऑली रोबिनसन को 2012-13 में किए गए उनके कुछ आपत्तिजनक ट्वीट के बाद निलंबित कर दिया, जिसके बाद बटलर और मोर्गन की भारतीयों को ‘सर’ शब्द का इस्तेमाल कर मजाक करते हुए कई ट्वीट सोशल मीडिया पर सामने आने लगे.

(इनपुट: भाषा)