watch video how axar patel breaks ms dhoni 17 years old record

त्रिनिदाद: शे होप ने अपने 100वें एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में शानदार शतक लगाया। इसके साथ ही निकोलस पूरन ने भी 74 रन की पारी खेली। इन दोनों की मदद से वेस्टइंडीज ने भारत के खिलाफ सीरीज के दूसरे वनडे मैच में 311 रन का स्कोर बनाया। हालांकि ये दोनों पारियां किसी काम नहीं आईं और कैरेबियाई टीम कोदो विकेट से हार का सामना करना पड़ा। भारत को जीत दिलाने में अक्षर पटेल का अहम किरदार रहा। पटेल ने विजयी सिक्स लगाकर भारत को जीत तक पहुंचाया। इसके साथ ही उन्होंने महेंद्र सिंह धोनी का 17 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया।

18वें ओवर में भारत का स्कोर 79 रन पर तीन विकेट था। श्रेयस अय्यर (63) और संजू सैमसन (54) ने मिलकर भारत को पटरी पर लाने का काम किया। दोनों के बीच 99 रन की साझेदारी हुई। इसके बाद दीपक हुड्डा और अक्षर पटेल ने भी अर्धशतकीय साझेदारी की। कैरेबियाई टीम ने हालांकि भारतीय लोअर ऑर्डर को सस्ते में निपटाने की कोशिश की। मैच अब रोमांचक हो चुका था।

वेस्टइंडीज ने लंबे समय तक मैच पर पकड़ बनाए रखी लेकिन अक्षर पटेल ने लगातार बाउंड्रीज लगाकर भारत को मैच में बनाए रखा। उन्होंने तीन चौके और पांच छक्के लगाए। भारत को अब जीत के लिए तीन गेंद पर छह रन चाहिए थे। अक्षर ने इसके बाद संयम बनाए रखा और काइल मेयर्स की फुल टॉस गेंद पर छक्का लगाकर भारत को विजय दिला दी।

अक्षर ने 35 गेंद पर 64 रन की पारी खेली। अक्षर ने वनडे क्रिकेट में धोनी का पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। अपनी पारी में लगाए गए सात छक्के किसकी भारतीय बल्लेबाज द्वारा नंबर सात या उससे नीचे बल्लेबाजी करते हुए सफल लक्ष्य में सबसे ज्यादा हैं। धोनी ने साल 2005 में भारत के जिम्बाब्वे के खिलाफ मुकाबले में ऐसा किया था। यूसुफ पठान ने दो बार धोनी के रिकॉर्ड की बराबरी की है। उन्होंने साल 2011 में साउथ अफ्रीका और आयरलैंड के खिलाफ रनों का पीछा करते हुए भारत को जीत दिलाई और अपनी पारी में तीन छक्के लगाए।

अक्षर ने मैच के बाद कहा, ‘मुझे लगता है कि यह खास पारी थी। यह महत्वपूर्ण वक्त पर आई और इसने भारत को जीत दिलाने में भई मदद की। हमने आईपीएल में भी ऐसा किया था। हमें सब शांत रहने और जोश बनाए रखने की जरूरत है। मैं करीब पांच साल से वनडे क्रिकेट खेल रहा हूं। मैं टीम के लिए आगे भी प्रदर्शन करना जारी रखूंगा।’