400000 ticket applicants for India vs Pakistan, claims icc World Cup Tournament Director

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट विश्व कप में होने वाले मैच के बहिष्कार की मांग के बीच मैनचेस्टर में 16 जून को होने वाले इस मैच का जलवा प्रशंसकों के बीच बरकरार है। ओल्ड ट्रैफर्ड में 25000 दर्शकों की क्षमता के बावजूद टिकटों के लिए 400000 से अधिक लोगों ने आवेदन किया है।

आईसीसी विश्व कप के टूर्नामेंट निदेशक स्टीव एलवर्थी ने लंदन में प्रचार कार्यक्रम के दौरान बताया कि भारत और पाकिस्तान के बीच ग्रुप चरण में होने वाले मैच के टिकटों की मांग इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच होने वाले मैच और लार्ड्स में होने वाले फाइनल से भी अधिक है।

पढ़ें;- क्रिकेट ही नहीं, पाकिस्तान के साथ सभी खेल रिश्ते खत्म करो: गांगुली

ईएसपीएन क्रिकइंफो ने एलवर्थी के हवाले से कहा, ‘‘इस मैच (भारत बनाम पाकिस्तान) के टिकटों के आवेदकों की संख्या 400000 से अधिक है जो काफी बड़ी संख्या है। स्टेडियम में सिर्फ 25000 दर्शक आ सकते हैं। इसलिए काफी लोग निराश होंगे।’’

एलवर्थी ने बताया कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले मुकाबले के लिए 230000 से 240000 लोगों ने आवेदन किया है जबकि फाइनल के लिए आवेदन करने वालों की संख्या 260000 से 270000 के बीच है।

पढ़ें;- हरभजन सिंह बोले, विश्व कप में पाकिस्तान से नहीं खेले भारत

हरभजन सिंह जैसे शीर्ष भारतीय क्रिकेटरों ने पाकिस्तान के खिलाफ राउंड रोबिन मुकाबले के बहिष्कार की मांग की है जबकि चेतन चौहान जैसे अनुभवी चाहते हैं कि भारत पूरे टूर्नामेंट के बहिष्कार की धमकी देकर आईसीसी पर दबाव बनाए।

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि आईसीसी के लिए भारत के बिना विश्व कप में जाना काफी मुश्किल होगा। लेकिन आपको यह भी देखना होगा कि क्या भारत में आईसीसी को ऐसी चीज करने से रोकने की ताकत है। लेकिन निजी तौर पर मुझे लगता है कि कड़ा संदेश दिया जाना चाहिए।’’