एबी डीविलियर्स के फैंस को 8 सितंबर से उनकी आत्मकथा पढ़ने का अवसर मिलेगा © AFP
एबी डीविलियर्स के फैंस को 8 सितंबर से उनकी आत्मकथा पढ़ने का अवसर मिलेगा © AFP

मौजूदा क्रिकेट के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में एक एबी डीविलियर्स के चाहने वालों के लिए खुशखबरी है। 8 सितंबर से एबी डीविलियर्स के चाहने वाले अपने इस सुपरस्टार क्रिकेटर की आत्मकथा(ऑटोबायोग्राफी) पढ़ने को मिल जाएगी। एबी डीविलियर्स की ये आत्मकथा ‘एबी: द ऑटोबायोग्राफी’ के नाम से रिलीज की जाएगी। डीविलियर्स की इस आत्मकथा में उन महत्वपूर्ण पलों का जिक्र होगा जिनकी वजह से उनके जीवन और करियर ने सही आकार लिया। इस किताब में उनके बचपन और स्कूल के दिनों से लेकर उनकी हालिया सफलताओं, अनुभवों और वनडे टीम के कप्तान के रूप में विवादों का भी जिक्र होगा।

डीविलियर्स की इस ऑटोबॉयोग्राफी में ना सिर्फ उनके करियर के सबसे खुशनुमा पलों का ही नहीं बल्कि उनके मैदान और मैदान के बाहर के व्यक्तित्व और मेंटर्स के साथ उनके रिश्तों का भी जिक्र होगा। पब्लिशर ने कहा है कि यह एबी की कहानी है जो उनके शब्दों में है। यह तीन खेल को लेकर पागल तीन प्रतिभाशाली भाईयों की कहानी है। यह कहानी है एक लड़के की जिसने टेनिस, रग्बी और क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया, जिसने 20 साल की उम्र में अपने इंटरनेशनल करियर की शुरूआत की और अगले 11 सालों तक साउथ अफ्रीका के लिए हर टेस्ट खेला। यह कहानी है एक बल्लेबाज की जिसने टेस्ट, वनडे और टी20 में टॉप पर रहते हुए अपने खेल की कला को रिडिफाइन किया। [Also Read: टी20 रैंकिंग में विराट कोहली नंबर एक पर बरकरार, लोकेश राहुल ने लगाई लंबी छलांग]

गौरतलब है कि एबी डीविलियर्स मौजूदा दौर के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में गिने जाते हैं, उन्होंने अपने कौशल से दुनिया भर में फैन बनाए हैं। भारत में भी उनको काफी पसंद किया जाता है। डीविलियर्स के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे तेज शतक जमाने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। उन्होंने सिर्फ 31 गेंदों पर शतक जड़कर ये रिकॉर्ड कोरी एंडरसन से अपने नाम किया था।