Afghan cricket board signals women could still play: Report
अफगानिस्तान (Twitter)

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (ACB) के अध्यक्ष ने तालिबान के कट्टर रुख पर स्पष्ट जवाब देते हुए रहा है कि महिलाओं को अभी भी देश में क्रिकेट खेलने की अनुमति दी जा सकती है।

अज़ीज़ुल्लाह फ़ाज़ली ने कहा कि तालिबानी सरकार इस बात की रूपरेखा तैयार करेगा कि ये “बहुत जल्द” कैसे होगा। उन्होंने ये भी कहा कि सभी 25 महिला टीम अफगानिस्तान में रहेंगी।

उन्होंने एसबीएस रेडियो पश्तो के कार्यक्रम में कहा, “हम आपको अपनी स्पष्ट स्थिति बताएंगे कि हम महिलाओं को क्रिकेट खेलने की अनुमति कैसे देंगे। बहुत जल्द, हम आपको अच्छी खबर देंगे कि हम कैसे आगे बढ़ेंगे।”

उनकी टिप्पणी तालिबान के सांस्कृतिक आयोग के उप प्रमुख अहमदुल्ला वासीक के उस बयान के खिलाफ थी, जिसमें उन्होंने बुधवार को कहा था कि महिलाओं के लिए खेल खेलना “आवश्यक नहीं” था।

SL vs SA: Dinesh Chandimal की फिफ्टी बेकार, पहले T20I में 28 रन से जीता साउथ अफ्रीका

इस बयान के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान की पुरुष क्रिकेट टीम के साथ होने वाले एकमात्र टेस्ट मैच को रद्द करने की बात कही। सीए का कहना है कि अगर तालिबानी सरकार अफगानिस्तान की महिलाओं को क्रिकेट खेलने की इजाजत नहीं देता तो उन्हें ना चाहते हुए भी ये टेस्ट मैच रद्द करना पड़ेगा।

ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान टिम पेन ने शुक्रवार को कहा कि उनका मानना है कि कई टीमें विरोध में अगले महीने होने वाले टी20 विश्व कप के बाहर हो सकती हैं, या अफगानिस्तान में खेलने का बहिष्कार कर सकती हैं।

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से तालिबान के महिला क्रिकेटरों पर लगाए बैन की वजह से पुरुष टीम को सजा ना देने की गुजारिश करते हुए कहा कि ये “अफगानिस्तान के कल्चर और धार्मिक वातावरण को बदलने के लिए शक्तिहीन” था। उन्होंने कहा, “हमें अलग न करें और हमें दंडित करने से बचें।”