अफगानिस्तान टीम © Getty Images
अफगानिस्तान टीम © Getty Images

अफगानिस्तान और जिम्बाब्वे के बीच रविवार को खेले गए पांच मैचों की वनडे सीरीज में अफगानिस्तान ने विश्व रिकॉर्ड बना डाला। अफगानिस्तान ने सीरीज को 3-2 से तो जीता ही, साथ ही उन्होंने इतिहास के सुनहरे पन्नों पर अपना नाम दर्ज करा लिया। फाइनल मुकाबले में अफगानिस्तान की टीम ने जिम्बाब्वे को मात्र 13.5 ओवरों में समेटकर विश्व रिकॉर्ड स्थापित कर दिया। अफगानिस्तान ने फाइनल मुकाबले को डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर 106 रनों से जीत सीरीज भी अपने नाम कर ली। पहले बल्लेबाजी करने उतरी अफगानिस्तान ने 50 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 253 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया। अफगानिस्तान की तरफ से रहमत शाह ने अर्धशतक जड़ा, तो वहीं कप्तान मोहम्मद नबी ने 52 गेंदों में 48 रनों की पारी खेली। जिम्बाब्वे की तरफ से क्रिस मोफू ही 3 विकेट लेने में सफल रहे। ये भी पढ़ें: टीम इंडिया को हराने में इस भारतीय ने दिया ऑस्ट्रेलिया का साथ

जवाब में बल्लेबाजी के लिए उतरी जिम्बाब्वे की टीम मात्र 13.5 ओवरों में 54 रन बनाकर ही सिमट गई। हरारे में हुए इस निर्णायक मैच में जिम्बाब्वे की तरफ से मात्र दो बल्लेबाज रेयान बर्ल (11) और ग्रीम क्रेमर (14) ही दहाई के आंकड़े को छू सके। अफगानिस्तान की तरफ से आमिर हमजा और मोहम्मद नबी ने 3-3 विकेट लिए। राशिद खान ने 2 विकेट लिए। जिम्बाब्वे को इतने कम ओवरों में समेटकर अफगानी टीम ने इतिहास रच दिया। अफगानिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया का 14 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। ऑस्ट्रेलिया ने 2003 में वन-डे में नामीबिया की पारी को 14 ओवरों में 45 रनों पर समेट दिया था।