Afghanistan ‘no easy meat’ feels Venkatesh Prasad
Rashid Khan is the biggest threat of Afghanistan's bowlers. @AFP

पूर्व भारतीय गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद ने एशिया कप में अफगानिस्तान की टीम के खिलाफ सभी टीम को सचेत रहने की सलाह दी है। खास कर अपना पहला हार चुकी श्रीलंका को सोमवार के मुकाबले में ज्यादा सावधानी बरतने की बात कही है।

एशिया कप के तीसरे मुकाबले में श्रीलंका करो या मरो जैसे हालात में अफगानिस्तान के खिलाफ खेलने उतरेगी। ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के लिए लिखते हुए प्रसाद ने अफगानिस्तान टीम को हल्के में ना की सलाह दी है।

प्रसाद के मुताबिक अफगानिस्तान की टीम अब एक ऐसी विरोधी बन चुकी है जो किसी भी अच्छी टीम को टक्कर दे सकती है। आखिरी तीन वनडे में जीत दर्ज करने वाली अफगानी टीम श्रीलंका के खिलाफ इसी आत्मविश्वास के साथ मैदान पर उतरेगी।

राशिद खान और मुजीब उल रहमान पर भार

प्रसाद ने लिखा कि अफगानिस्तान की टीम स्पिन जोड़ी राशिद खान और मुजीब उल रहमान पर निर्भर करेगी। इन दोनों के प्रदर्शन का टीम के जीत और हार पर बहुत ज्यादा असर पड़ने वाला है। यूएई के गर्म और सूखे कंडीशन में दोनों ही स्पिनर काफी मारक साबित हो सकते हैं। अफगानिस्तान के कप्तान को उम्मीद है कि बल्लेबाज गेंदबाजी को बराबर सपोर्ट देंगे।

श्रीलंका कर सकती है वापसी

श्रीलंका की टीम को एशिया कप के पहले मुकाबले में बांग्लादेश के हाथों हार मिली थी। टूर्नामेंट में बने रहने के लिए श्रीलंका के लिए अफगानिस्तान के खिलाफ जीत हर हाल में जरूरी है। प्रसाद ने लिखा, एशिया कप की शुरुआत से पहले श्रीलंका की टीम को भी जीत का दावेदार माना जा रहा था। हालांकि अभी भी मैं उनको इस दौड़ से बाहर नहीं कर रहा लेकिन बने रहने के लिए टीम को काफी मेहनत करनी पड़ेगी।