भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया से टेस्ट सीरीज जीतकर गुरुवार को ही भारत लौटी है. अभी टीम के ज्यादातर खिलाड़ी स्वदेश भी नहीं लौटे हैं कि उन्हें अगले मिशन की तैयारी के जुटना होगा. इंग्लैंड के खिलाफ 5 फरवरी से 4 मैच की टेस्ट सीरीज का आगाज होगा. इसके लिए सभी खिलाड़ी 26 जनवरी को चेन्नई में जुट जाएंगे और 2 फरवरी से वे सभी अभ्यास शुरू करेंगे.

क्रिकेट वेबसाइट क्रिकबज के मुताबिक जो खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया में खेलने वाली टीम के सदस्य नहीं थे और इंग्लैंड के साथ होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए टीम में चुने गए हैं, वे 23 जनवरी को ही चेन्नई पहुंचेंगे. इनमें नेट बॉलर्स और स्टैंडबाई खिलाड़ी भी शामिल हैं.

अनुभवी तेज गेंदबाज इशांत शर्मा और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की शुरुआत के दो मैचों के लिए 18 सदस्यीय भारतीय टीम में वापसी हुई है. उनके अलावा कप्तान विराट कोहली भी वापसी हुई है, जो अपने पहले बच्चे के जन्म के पैटरनिटी लीव के कारण ऑस्ट्रेलिया में अंतिम तीन टेस्ट मैचों में नहीं खेल पाए थे.

इंग्लैंड टीम के अलावा चेन्नई पहुंचने वाले भारतीय खिलाड़ियों को सात दिनों के बायो बबल में रहना होगा. लिहाजा 26 जनवरी को चेन्नई पहुंचकर भारतीय खिलाड़ी 1 फरवरी को बायो बबल का ड्यूरेशन पूरा कर लेंगे.

दोनों टीमों के खिलाड़ियों क रुकने के लिए चेपक स्टेडियम के पास का ही एक होटल बुक किया गया है. जब खिलाड़ी बायो बबल का अपना ड्यूरेशन पूरा कर लेंगे, तब 2 फरवरी से उन्हें अभ्यास की इजाजत होगी. इंग्लैंड की टीम अभी श्रीलंका में ही खेल रही है.

गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया में कार्यवाहक कप्तान की भूमिका में रहे अजिंक्य रहाणे, मुख्य कोच रवि शास्त्री, रोहित शर्मा, शार्दुल ठाकुर, पृथ्वी शॉ, रिषभ पंत, टी. नटराजन और मोहम्मद सिराज भारत पहुंचकर अपने-अपने घर रवाना हो गए. इनके अलावा अनुभवी स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, ऑलराउंडर वॉशिंग्टन सुंदर और बॉलिंग कोच भतर अरुण अभी दुबई में हैं, इनके शुक्रवार को भारत पहुंचने की उम्मीद है.

इनपुट: IANS