After Brett Lee and Adam Gilchrist, Shoaib Akhtar also against Jersey number in Tests
ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम (IANS)

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में खिलाड़ियों की जर्सी पर उनके नाम और नंबर लिखवाने का नया चलन शुरू हुआ है, जिसकी आलोचना ऑस्ट्रेलिया के दो दिग्गज ब्रेट ली और एडम गिलक्रिस्ट कर चुके हैं। अब इस फेहरिस्त में पाकिस्तान के शोएब अख्तर का नाम भी जुड़ चुका है।

अख्तर ने कहा है कि टेस्ट में सफेद जर्सी के पीछे नाम और नंबर लिखा देख खराब लगता है। इस पूर्व गेंदबाज ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) से इस फैसले को बदलने को कहा है।

इस समय इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया एशेज सीरीज खेल रही हैं जो टेस्ट चैंपियनशिप के अंतर्गत आती हैं। इस सीरीज में दोनों टीमों के खिलाड़ियों की जर्सी के पीछे नाम और नंबर लिखे हुए हैं। आईसीसी ने सफेद जर्सी के पीछे नाम और नंबर का नियम इसलिए लागू किया ताकि प्रशंसक खिलाड़ियों के साथ जुड़ सकें।

‘लॉर्ड्स टेस्ट से पहले मोइन अली की मानसिकता को लेकर फैसला करे इंग्लैंड’

शोएब ने ट्वीट किया, “सफेद किट पर खिलाड़ियों का नाम और नंबर लिखा जाना बेहद खराब लग रहा है। ये खेल को उस पारंपरिक भावना से बाहर निकालना है जिसके साथ अभी तक इसे खेला जाता था। इस फैसले को बदलना चाहिए।”

ली ने भी इसकी आलोचना की थी और ट्विटर पर लिखा था, “टेस्ट टीशर्ट के पीछे नाम और नंबर लिखे जाने के मैं पूरी तरह से खिलाफ हूं। आईसीसी आपने जो बदलाव किए हैं मैं उनको पसंद करता हूं लेकिन इस बार आपने ये गलत किया।”

गिलक्रिस्ट ने भी इसे बकवास बताया था। उन्होंने कहा था, “मैं अपनी माफी वापस लेता हूं। नाम और नंबर टीशर्ट के पीछे खराब लग रहे हैं। आप सीरीज का लुत्फ उठाइए।”

उन्होंने इससे पहले एक और ट्वीट में लिखा था, “शानदार, हमने शुरुआत कर दी है। मुझे पुराने ख्यालात रखने के लिए माफ कर दीजिए लेकिन मुझे नाम और नंबर पसंद नहीं आ रहे।”