बीते कुछ दिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के लिए वनवास की तरह बीत रहे थे. आईपीएल में हिस्सा लेने आए इन खिलाड़ियों को करीब 26 दिन लंबे इंतजार के बाद आज अपने परिजनों से मिलने का मौका मिला. कोविड- 19 के कारण भारत की इस टी20 लीग को तब स्थगित करना पड़ा था, जब कुछ टीमों के बायो बबल में भी कोरोना वायरस के मामले सामने आने लगे. इस दौरान सभी विदेशी खिलाड़ी अपने-अपने देश लौट गए थे. लेकिन ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को अपने देश की सरकार से इसकी इजाजत नहीं मिली थी.

ये खिलाड़ी सोमवार को जब अपने परिजनों से मिले तो उनके आंखों में खुशी के आंसू और चेहरे पर सुकून साफ झलक रहे थे. ऑस्ट्रेलिया ने पहले भारत में बिगड़ चुकी कोविड- 19 स्थिति के कारण यहां यात्रा करने वाले अपने निवासियों की एंट्री पर भी रोक लगा रखी थी. 14 मई को इन खिलाड़ियों को जब स्वदेश लौटने की एंट्री मिली तो वह मालदीव से वहां रवाना हुए. इसके बाद यहां भी दो सप्ताह तक उन्हें होटल के कमरों में क्वॉरंटीन में बिताने पड़े. ऑस्ट्रेलिया का 38 सदस्यीय दल दो सप्ताह पहले स्वदेश लौटा था.

https://twitter.com/ChloeAmandaB/status/1399220805364371461?s=20

तेज गेंदबाज पैट कमिन्स भी इन खिलाड़ियों में शामिल थे. वह होटल से बाहर निकले और अपनी गर्भवती हमसफर बेकी बोस्टन के गले लग गये. इसका वीडियो ऑस्ट्रेलिया की मशहूर खेल पत्रकार चोली अमांडा बेली ने अपने ट्विटर पर डाला है.

बेली ने वीडियो के साथ लिखा है, ‘दिन का खास वीडियो. आईपीएल के लिए 8 सप्ताह बाहर रहने के बाद पैट कमिन्स आखिर में होटल में पृथकवास से बाहर निकलकर अपनी गर्भवती साथी बेकी से मिले. भावनाओं का ज्वार हावी है.’ कमिन्स के अलावा स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मि​थ, ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल और सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर भी उन खिलाड़ियों में शामिल थे, जो 8 सप्ताह बाद अपने प्रियजनों से मिले.

आईपीएल को जैव सुरक्षित वातावरण में कोविड- 19 के मामले पाये जाने के बाद चार मई को स्थगित कर दिया था. यह लीग अब सितंबर में यूएई में होगी.

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के नवनियुक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी निक हॉकले ने कहा कि खिलाड़ियों की अपने घर जाने की भावना को कम करके नहीं आंका जा सकता है.

हॉकले ने कहा, ‘हम उन्हें संदेश भेज रहे थे. मैंने कुछ से समूहों में बात की. इसमें खिलाड़ी ही नहीं बल्कि कॉमेंटेटर, मैच अधिकारी और फिजियो भी शामिल थे. वे इस अनुभव से सकते में थे. यह अच्छा है कि वे अब घर लौट आए हैं.’ उनके चार्टर्ड विमान तथा मालदीव और सिडनी में प्रवास का खर्चा भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने उठाया और हॉकले ने इस मदद के लिए भारतीय बोर्ड का आभार व्यक्त किया.