After success in IPL, Riyan Parag wants to play in Indian Team
Riyan Parag @ BCCI

आईपीएल के इतिहास में अर्धशतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने रियान पराग ने कहा कि वह इस लीग और अंडर-19 विश्व कप के अनुभव का इस्तेमाल भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए करना चाहते है।

असम के 17 साल के इस खिलाड़ी की 49 गेंद में 50 रन की पारी से राजस्थान ने शनिवार को यहां दिल्ली के खिलाफ 20 ओवर में नौ विकेट पर 115 रन बनाये। उनकी टीम हालांकि मैच नहीं जीत पायी पर आईपीएल के इस सत्र में 40 की औसत से 160 रन बनाकर उन्होंने अपना दमखम दिखाया।

पढ़ें:- IPL 2019: राजस्‍थान पर जीत के बाद दिल्‍ली ने किया फैन्‍स का धन्‍यवाद

पराग ने दिल्ली से पांच विकेट से मैच गंवाने के बाद पत्रकारों से कहा, ‘‘मेरे लिए यह अच्छा आईपीएल रहा। यह मेरा पहला आईपीएल था, मैंने नहीं सोचा था कि मैं इतने मैचों में खेलूंगा। मैं यहां सिर्फ सीखने और अनुभव हासिल करने आया था, लेकिन अब मैं वास्तव में खुश हूं कि मैं अपनी टीम के लिए योगदान दे सका हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ मेरा अब तक का सफर काफी उतार-चढ़ाव से भरा रहा है। अंडर-19 विश्व कप और अब आईपीएल मेरे करियर के सबसे अच्छे टूर्नामेंट रहे है। राजस्थान के लिए खेलना खुद में अलग तरह का अनुभव था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ मेरा लक्ष्य हमेशा से भारतीय टीम के लिए खेलना रहा है। अंडर -19 विश्व कप और आईपीएल उस दिशा में छोटे कदम हैं जो मुझे लक्ष्य की ओर ले जाएंगे। मैं अभी घरेलू क्रिकेट और फिर अगले साल आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करना चाहूंगा।’’

पढ़ें:- राजस्‍थान को हराकर प्‍वाइंट्स टेबल में दूसरे स्‍थान पर पहुंची दिल्‍ली

पराग 2018 में अंडर-19 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। उन्होंने शनिवार को फिरोजशाह कोटला मैदान की मुश्किल पिच पर शानदार बल्लेबाजी कर राजस्थान को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। उन्होंने कहा, ‘‘ यह काफी मुश्किल पिच थी। हमें लगा कि यहां पहले बल्लेबाजी करना अच्छा होगा लेकिन गेंद रूककर आ रही थी ओर ज्यादा टर्न ले रही थी।

राजस्थान के कोच पैडी अप्टन ने कहा कि यह ऐसा सत्र था जहां हम मौकों को नहीं भुना सके। ‘‘यह निराशाजनक सत्र रहा, हम मौकों का फायदा नहीं उठा सके। हमारे पास वास्तव में एक अच्छी टीम थी। हम जानते थे कि हमारे कुछ वरिष्ठ खिलाड़ी सत्र के आखिर में चले जाऐंगे। हमें मजबूत स्थिति में रहने के लिए अच्छा प्रदर्शन करना चाहिए था।’’