Aiden Markram : Want to become South Africa team’s captain but not desperate
एडेन मार्कराम © AFP

दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज एडेन मार्कराम का कहना है कि वो टेस्ट क्रिकेट में अपनी राष्ट्रीय टीम की अगुवाई करना चाहते हैं लेकिन अगर उन्हें ये पद नहीं मिलता तो ये उनके लिए दुनिया का अंत नहीं होगा।

अनुभवी बल्लेबाज फॉफ डु प्लेसिस के तीनों फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने के बाद क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका (सीएसए) ने विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक को वनडे-टी20 टीम की कमान सौंपी लेकिन बोर्ड को अब भी टेस्ट टीम के लिए उपयुक्त कप्तान की तलाश है।

मार्कराम ने ‘स्पोर्ट24’ से कहा, ‘‘मैंने अपने देश की कप्तानी करने के बार में कभी बहुत अधिक नहीं सोचा। ये हमेशा मेरे लिए अंधेरे में तीर चलाने जैसा रहा है। लेकिन जब समाचार लिखने वाले लोगों के दिमाग में मेरा नाम आ रहा है तो ये जानकर अच्छा लगता है कि मेरे नाम पर भी विचार हो रहा है। मुझे ये (कप्तानी) पसंद होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मैं पहले भी कह चुका हूं कि अगर मुझे कप्तानी नहीं मिलती तो ये मेरे लिए सब कुछ का अंत नहीं होगा। मैं इसके लिए बेताब नहीं होना चाहता हूं। मैं सम्मानित महसूस कर रहा हूं और उत्साहित हूं लेकिन मैं इसको लेकर बेताब नहीं हूं।’’

एश्टन एगर ने कहा- दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर हैं नाथन लियोन

मार्कराम की अगुवाई में ही दक्षिण अफ्रीका ने 2014 में दुबई में विश्व कप (अंडर-19) खिताब जीता था। वो डुप्लेसिस की जगह कप्तान बनने की दौड़ में सबसे आगे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘निजी तौर पर मैं कप्तान और उससे जुड़े दायित्वों का पूरा आनंद लेता हूं।’’

मार्कराम के अलावा जिन अन्य खिलाड़ियों के नाम पर विचार किया जा रहा है उनमें डीन एल्गर, टेम्बा बावुमा, रासी वान डर डुसेन और केशव महाराज शामिल हैं।