अजिंक्य रहाणे © Getty Images
अजिंक्य रहाणे © Getty Images

इंग्लैंड के लॉर्डस क्रिकेट स्टेडियम में शतक लगाने का सपना हर दिग्गज बल्लेबाज का होता है। इस स्टेडियम में जो भी खिलाड़ी शतक लगाता है या पांच विकेट लेता है उसका नाम लॉर्डस क्रिकेट मैदान के सम्मान बोर्ड पर अंकित किया जाता है। इस मैदान पर टेस्ट मैचों में अब तक 235 शतक लगाए जा चुके हैं जिनमें से 11 शतक भारतीय बल्लेबाजों ने लगाए। इस मैदान पर अंतिम बार भारत की ओर से शतक अजिंक्य रहाणे ने साल 2014 में लगाया था। इस मैदान पर सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज के नाम पर कोई शतक नहीं है। जाहिर है कि रहाणे के द्वारा शतक लगाना एक फक्र की बात जरूर है। रहाणे के शतक की बदौलत टीम इंडिया ने इस मैच में जीत दर्ज की थी।

रहाणे हाल ही में इंग्लैंड चैंपियंस ट्रॉफी खेलने को पहुंचे हैं। उन्होंने बीसीसीआई टीवी से बातचीत में कहा, ” मेरी पहली प्रतिक्रिया बोर्ड पर अपना नाम देखना था। इसके बाद सम्मान बोर्ड पर राहुल भाई , दिलीप वेंगस्कर और कई खिलाड़ियों के साथ अपना नाम देखकर मैं काफी खुश हुआ। इस ऐतिहासिक मैदान से मेरी काफी यादें जुड़ी हुई है, खासकर काफी समय बाद यहां टेस्ट मैच जीतने की यादें। विजेता टीम की तरफ से शतक बनाना मेरे लिए काफी खास था। बोर्ड पर अपना नाम पाकर मैं काफी विशेष महसूस कर रहा हूं।”

रहाणे ने आगे कहा, “यहां का माहौल काफी अच्छा है। कई खिलाड़ी यहां पहली बार खेल रहे हैं इसलिए वे इसमें शानदार प्रदर्शन करने को लेकर उत्साहित हैं। जब भी आप यहां पर खेलते हैं तो आपके लिए एक खास अनुभव होता है। चैंपियंस ट्राफी में भी हम शानदार प्रदर्शन कर खिताब बचाना चाहते हैं।” टीम इंडिया चैंपियंस ट्रॉफी में 3 लीग मैच खेलेगी। भारतीय टीम अपने अभियान की शुरुआत पाकिस्तान के खिलाफ 4 जून से करेगी, ये मुकाबला बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान पर खेला जाएगा। [ये भी पढ़ें: चैंपियंस ट्रॉफी, अभ्यास मैच(प्रिव्यू): इंग्लैंड की तेज पिचों पर न्यूजीलैंड से दो- दो हाथ करने उतरेगी टीम इंडिया]

विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया का दूसरा मुकाबला 8 जून को श्रीलंका से केनिंग्टन ओवल में होगा। वहीं तीसरा मुकाबला द.अफ्रीका के खिलाफ होगा जो कि केनिंग्टन ओवल में ही खेला जाएगा। टूर्नामेंट शुरू होने से पहले टीम इंडिया दो प्रैक्टिस मैच भी खेलेगी। पहला मुकाबला 28 मई को न्यूजीलैंड से होगा तो वहीं 30 जून को बांग्लादेश के खिलाफ प्रैक्टिस मैच में टीम इंडिया अपनी तैयारी को जांचेगी।