Ajinkya Rahane: India’s experienced bowling attack could give Virat Kohli’s men edge in world cup
Ajinkya Rahane (File Photo) © Getty Images

वेस्टइंडीज और इंग्लैंड को सबसे बड़ा खतरा करार देते हुए भारत के टेस्ट उप कप्तान अजिंक्य रहाणे ने सोमवार को कहा कि इंग्लैंड के मददगार हालात में ‘अनुभवी’ गेंदबाजी आक्रमण विश्व कप में विराट कोहली की टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा सकता है।

ब्रिटेन में 30 मई से शुरू हो रहा टूर्नामेंट नए राउंड रोबिन प्रारूप में खेला जाएगा और रहाणे ने कहा कि शुरुआती लय और निरंतरता टूर्नामेंट में भारत की सफलता में अहम भूमिका निभाएगी।

पढ़ें:- जब भी मैंने कुछ अतिरिक्त करने की कोशिश की तो उसका फायदा नहीं मिला: शुभमन गिल

भारत की विश्व कप टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे रहाणे ने कहा, ‘‘कुल मिलाकर टीम काफी मजबूत है। इस बार विश्व कप नए प्रारूप में खेला जाएगा, हम नौ लीग मैच खेलेंगे, इसलिए लय और निरंतरता अहम होगी।’’

भारत के लिए अपना पिछला वनडे मैच 16 फरवरी 2018 को सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलने वाले रहाणे ने कहा, ‘‘अगर आप अच्छी शुरुआत करते हो तो आपको पूरे टूर्नामेंट के दौरान प्रदर्शन में निरंतरता रखनी होती है। आईसीसी टूर्नामेंट में कोई भी टीम कभी भी लय हासिल कर सकती है। इसलिए हम किसी टीम को हल्के में नहीं ले सकते।’’

मुंबई के इस बल्लेबाज ने कहा कि भारत का गेंदबाजी आक्रमण इंग्लैंड के मददगार हालात में टीम का पलड़ा भारी करता है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारा आक्रमण काफी अनुभवी है। अच्छी चीज यह है कि हमारी टीम में शामिल सभी गेंदबाज विकेट चटकाने वाले हैं और जिस टीम में विकेट हासिल करने वाले गेंदबाज होते हैं उसके मौके बढ़ जाते हैं। हमारे पास ऐसे गेंदबाज हैं जो किसी भी हालात में विकेट हासिल कर सकते हैं।’’

पढ़ें:- IPL 2019: 12वें सीजन की चैंपियन मुंबई के सफर पर एक नजर

रहाणे ने कहा, ‘‘इंग्लैंड के हालात से निश्चित तौर पर हमारे गेंदबाजों को मदद मिलेगी क्योंकि हाल में वहां खेलने के कारण वे हालात से अच्छी तरह वाकिफ हैं। निश्चित तौर पर उन्हें कुछ बदलाव करने होंगे लेकिन यह समस्या नहीं होगी।’’

रहाणे ने भारत के साथ वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के अलावा न्यूजीलैंड को प्रबल दावेदार बताया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं किसी एक टीम को चुनने में विश्वास नहीं रखता लेकिन इंग्लैंड की टीम काफी अच्छी है। न्यूजीलैंड ने आईसीसी टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन किया है और वेस्टइंडीज की टीम के प्रदर्शन का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। अपने दिन वे किसी भी टीम को हरा सकते हैं।’’

पढ़ें:- फाइनल मैच जीतने के बाद मुंबई की टीम को लगा बड़ा झटका

अतीत में कुछ मौकों पर भारत की सीमित ओवरों की टीम की अगुआई करने वाले रहाणे ने कहा कि इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में महेंद्र सिंह धोनी का अपार अनुभव कप्तान विराट कोहली के लिए काफी मददगार होगा।

उन्होंने कहा, ‘‘विराट कोहली अच्छा नेतृत्वकर्ता है। सभी में अलग अलग कौशल होता है। माही भाई (धोनी) में नेतृत्वकर्ता के अलग गुण हैं और विराट को निश्चित तौर पर माही भाई से अच्छा समर्थन और मार्गदर्शन मिलेगा।’’

अपने निजी करियर पर रहाणे ने कहा कि किसी अन्य क्रिकेटर की तरह उनकी भी विश्व कप में खेलने की इच्छा है। हालांकि भारत की विश्व कप टीम में जगह नहीं मिलने के कारण उन्होंने अपना ध्यान हैम्‍पशायर के साथ काउंटी क्रिकेट खेलने पर लगा दिया है जिससे कि अपने बल्लेबाजी कौशल को निखार सकें।