Ajinkya Rahane, Jaspirt Bumrah feel  special after contributing in India’ win at Antigua

वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट में शतक लगाने वाले भारतीय टीम के उप-कप्तान अंजिक्य रहाणे ने अपने इस शतक को खास बताया है। रहाणे ने 17 टेस्ट मैच के बाद खेल के सबसे लंबे फॉर्मेट में शतक जमाया है।

अपनी शानदार पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए रहाणे ने कहा, “मैं काफी खास महसूस कर रहा हूं। मुझे लगता है कि हमारे लिए पहली पारी काफी अहम थी। मेरे और केएल राहुल के बीच में हुई साझेदारी ने अच्छा काम किया। इससे पहले मैं हैम्पशायर के लिए काउंटी क्रिकेट खेल रहा था जिससे मुझे मदद मिली।”

रहाणे ने अपने अवार्ड को अपने समर्थकों को समर्पित किया। उन्होंने कहा, “पिछले तकरीबन दो साल में जिन लोगों ने मेरा समर्थन किया मैं ये अवार्ड उन्हें समर्पित करता हूं। विकेट काफी अच्छी थी। हम जानते थे कि अगर हम विकेट पर टिके रहे तो रन अपने आप आएंगे। रणनीति सिर्फ बल्लेबाजी करने की थी।”

बुमराह के 5 विकेट हॉल से जीता भारत, सीरीज में 1-0 से बढ़त

बल्ले से रहाणे तो गेंद से जसप्रीत बुमराह ने अपना कमाल दिखाया और दूसरी पारी में सात रन देकर पांच विकेट लिए।

बुमराह ने अपने प्रदर्शन पर कहा, “जीत कर अच्छा लग रहा है। एक गेंदबाजी यूनिट के तौर पर हमने दबाव बनाया जो अच्छा रहा। हमने हवा का फायदा उठाया और अपनी रणनीति पर बने रहे। आउटस्विंगर डालने में काफी मेहनत लगती है। मेरे पास इनस्विंगर पहले से थी, लेकिन मैं जितना खेलता गया उतना इसे लेकर आत्मविश्वास आता गया।”

‘एक से ज्यादा स्किल रखने वाले खिलाड़ियों पर आधारित है टीम कॉम्बिनेशन’

उन्होंने कहा, “इंग्लैंड में ड्यूक गेंद से खेलने से मदद मिली। इससे मेरा आत्मविश्वास बढ़ा है और मैं हमेशा से नई चीजें करने की कोशिश करता हूं। अगर गेंद स्विंग नहीं करती है तो मैं कोशिश करता हूं कि सीम से गेंद को मूव करा सकूं।”