Ajit Agarkar feels MS Dhoni’s scoring rate wasn’t upto the mark in Sydney
MS Dhoni (AFP Photo)

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे मैच मे अर्धशतकीय पारी खेलने वाले महेंद्र सिंह धोनी भारत की हार के बाद धीमी स्ट्राइक रेट के लिए आलोचना झेल रहे हैं। ट्विटर पर धोनी को 96 गेंदो पर 51 रनों की धीमी पारी खेलने के लिए ट्रोल किया गया। जिसके बाद पूर्व क्रिकेटर अजीत अगरकर ने भी धोनी के स्ट्राइक रेट की आलोचना की।

ये भी पढ़ें: भाग्यशाली रहे जो धोनी को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट कर पाए : रिचर्डसन

अगरकर का कहना है कि धोनी के 53.13 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करने से रोहित शर्मा को ज्यादा मदद नहीं मिली। ईएसपीएन को दिए बयान में अगरकर ने कहा, “हां, जब आप चार रन पर तीन विकेट गिरने के बाद बल्लेबाजी करने आते हैं तो स्थिति मुश्किल होती है। और आप शुरुआती 25-30 गेंदों के लिए बहस कर सकते हैं लेकिन एक बार आप सेट हो जाते हैं तो फिर ये नहीं कहा जा सकता है। मेरा मतलब ये है कि रोहित अकेले ही 288 रन बना सकता है। उसे केवल दूसरे छोर पर समर्थन की जरूरत थी और ऐसे शख्स से नहीं जो 100 गेंदो पर 50 रन बना रहा हो। और 100 गेंद वनडे क्रिकेट में बहुत होती हैं।”

ये भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया में 4 वनडे शतक लगाने वाले अकेले बल्लेबाज रोहित शर्मा

पूर्व तेज गेंदबाज अगरकर ने आगे कहा, “आप ये कह सकते हैं कि शुरुआत में उन पर दबाव था और आप विकेट नहीं खोना चाहते। लेकिन बाद में, आपको वो करना होगा जिसकी टीम को जरूरत है। और अगर आप वो ऐसा नहीं कर पा रहे हैं तो आपको ये सोचना पड़ेगा कि वो शख्स ये करने के सही है या नहीं। हां, उन्होंने अर्धशतक बनाया लेकिन वो भी 100 गेंदो पर बना। इससे दूसरे छोर पर रोहित को कोई मदद नहीं मिली।”

ये भी पढ़ें:  रोहित शर्मा बोले-एमएस धोनी के लिए आदर्श है चौथा नंबर

51 रन बनाकर रोहित के साथ शतकीय साझेदारी बनाने के बाद धोनी जेसन बेहरेन्डॉर्फ के ओवर में एलबीडब्ल्यू आउट हो गए। हालांकि रीप्ले में साफ दिखा की गेंद लेग स्टंप के बाहर पिच हो रही थी लेकिन डीआरएस ना होने की वजह से धोनी पवेलियन लौट गए। इस पर अगरकर ने कहा, “धोनी के फैंस से कह सकते हैं कि उनके खिलाफ गलत फैसला हुआ वर्ना वो आगे बल्लेबाजी करते। लेकिन ऐसा लग नहीं रहा था। ऐसा लग रहा था कि रोहित ही सारा काम कर सकता था।”