Alastair Cook had retirement in mind for six months
Alastair Cook © Getty Images

इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज एलिस्टर कुक ने कहा कि उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का फैसला इसलिए लिया क्योंकि उन्होंने उस मानसिक फूर्ती को खो दिया था। जिससे उन्होंने अपने करियर के दौरान आसानी से काम किया था।

भारत के खिलाफ ओवल मैदान पर खेले जाने वाले मौजूदा टेस्ट सीरीज के पांचवें और आखिरी मैच के बाद उन्होंने संन्यास लेने की घोषणा की है। सीरीज में इंग्लैंड की टीम 3-1 से आगे है।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर पिछले 12 साल से इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व कर रहे कुक ने कहा, ‘‘मेरी मानसिक फूर्ती अधिक रही है। मैं हमेशा मानसिक रूप से मजबूत रहा हूं लेकिन अब मेरी मानसिक फूर्ती कम हो रही है और फिर से उस फूर्ती को पाना काफी मुश्किल है।’’

कुक ने कहा कि अगर साउथम्प्टन में मैच के बाद सीरीज का फैसला नहीं होता तो वह अपने संन्यास के फैसले को साझा नहीं करते।

उन्होंने कहा, ‘‘सच कहूं तो मेरे एक दोस्त ने यह जानने के लिए मुझे फोन किया कि मैं जिंदा हूं क्योंकि हर कोई ऐसे बात कर रहा जैसे मैं जिंदा नही हूं । जब आप अपने बारे में बहुत अच्छी बातें सुनते है तो अच्छा लगता है। उदाहरण के तौर पर, जब मैं गाड़ी चला रहा था और किसी ने मुझसे खिड़की के शीशे को नीचे करवा कर कहा कि ‘बहुत बहुत धन्यवाद’। यह आपके अच्छे पलों में से एक है। उम्मीद है कि अलविदा कहने से पहले इस सप्ताह मैं कुछ रन बना सकूं।’’

(पीटीआई न्यूज)