Alastair Cook: It’s been the most surreal four days of my life
Alastair Cook © AFP

इंग्लैंड क्रिकेट के दिग्गज एलिस्टर कुक कल ओवल के मैदान में अपनी आखिरी अंतर्राष्ट्रीय पारी खेलने उतरे थे। कुक ने भारत के खिलाफ पांचवें टेस्ट में अपने करियर का 33वां शतक लगाते हुए 147 रनों की पारी खेली। ओवल स्टेडियम में मौजूद 19,000 दर्शकों ने खड़े होकर कुक का अभिवादन किया। कुक ने कहा कि अपने आखिरी टेस्ट मैच में उन्होंने अपनी जिंदगी के सबसे अनोखे चार दिन जिए।

मैच के बाद मीडिया से बात करते हुए पूर्व कप्तान ने कहा, “ये मेरी जिंदगी के सबसे अनोखे चार दिन रहे। यहां मेरे कुछ दोस्त भी आए हैं, आज सब कुछ सही हुआ और पिछले चार दिनों में मुझे जिस तरह का स्वागत मिला वो अविश्वसनीय है, यहां तक कि पिछले कुछ ओवरों में जब भीड़ मेरा बार्मी आर्मी फैन सॉन्ग गा रही थी, ये बेहद खास था। स्वार्थी होकर कहूं तो मेरे लिए इससे बेहतर हफ्ता नहीं हो सकता था। इसे अलग करें तो जाहिर है कि मैने इससे अहम कई और मैच खेले हैं।”

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भावुक हुए कुक ने कहा, “160 मैचों के बाद इस तरह का प्रदर्शन करना और इतना अच्छा दिन बीतना, ये जाने का अच्छा तरीका है।” कुक ने साउथम्पटन टेस्ट की जीत के साथ ही अपने संन्यास का ऐलान कर दिया था। इस बारे में कुक ने कहा, “ये मेरा समय है, ये मेरे परिवार का समय है और इससे ये और बेहतर हो गया है। ये हमेशा अच्छा लगता है कि लोग आपको और खेलते देखना चाहते हैं ना कि आपको टीम से बाहर करना चाहते हैं। अपनी शर्तों पर बाहर जाना, इसे खास बनाता है।”

कुक ने आगे कहा, “पिछले 12-18 महीनों में मेरे दिमाग में चीजें आने लगी थी और ट्रेनिंग के दौरान जो हुआ तो मेरे लिए ये फैसला हो चुका था। लेकिन जाहिर है कि ये बड़ा फैसला था क्योंकि अपने सपनों का पीछा करना और इंग्लैंड के लिए खेलना, मैं हमेशा केवल यही चाहता था। जब आपको लगता है कि ये सही है, तो ये सही होता है। इन सब चीजों ने इसे और बेहतर बना दिया।”