Alex Hales deserves ‘second chance’, says England’s Chris Woakes
एलेक्स हेल्स, महेंद्र सिंह धोनी (getty images)

इंग्लिश तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स का मानना है कि बार-बार ड्रग्स का इस्तेमाल करने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से दूर हुए एलेक्स हेल्स दूसरे मौके के हकदार हैं। बता दें कि सलामी बल्लेबाज हेल्स को ड्रग टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने के बाद 2019 विश्व कप टीम से बाहर तक दिया गया था।

पिछले साल घरेलू मैदान पर हुए विश्व कप की टीम से बाहर होने के बाद से हेल्स ने कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है। फिलहाल अनुमान लगाया जा रहा है कि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड हेल्स को फिर से टीम में शामिल कर सकता है।

कोरोना वायरस महामारी की वजह से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर लगे ब्रेक के बाद दोबारा क्रिकेट शुरू होने पर इंग्लैंड के सामने बेहद व्यस्त सीजन होगा। ऐसे में बोर्ड टेस्ट और वनडे की अलग-अलग टीम का ऐलान करने वाला है। ताकि एक साथ वेस्टइंडीड, पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया और आयरलैंड टीमों के खिलाफ सीरीज खेली जा सके। इसके अलावा बोर्ड के सामने ऑस्ट्रेलिया में होने वाला टी20 विश्व कप भी है।

कोच रवि शास्त्री ने भी माना इस खिलाड़ी के नहीं खेलने से हुआ टीम इंडिया को नुकसान

वॉरविकशायर के ऑलराउंडर वोक्स ने हेल्स के बारे में कहा: “मैं 100 प्रतिशत नहीं जानता कि अगर ये सही निर्णय है या नहीं लेकिन ये मेरी कॉल नहीं है। मैं इस बात पर विश्वास करता हूं है कि लोग अपनी सजा पूरी करते हैं। वो (हेल्स) मुश्किल समय से गुजरे हैं और विश्व कप से बाहर हुए हैं और फिर अपनी टीम को ट्रॉफी उठाते देखना उनके लिए मुश्किल रहा होगा। मुझे लगता है कि अगर लोग कुछ समय के लिए बाहर जाते हैं और फिर अपनी कमजोरियों पर काम करते है, तो उन्हें दूसरा मौका मिलना चाहिए।

हेल्स पिछले बिग बैश लीग टूर्नामेंट में दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वोक्स से पहले इयोन मोर्गन ने हेल्स को लेकर बयान दिया था। हालांकि इंग्लिश कप्तान ने हेल्स के रवैए को घातक बताया था।

विराट कोहली, एबी डिविलियर्स को साथ खेलते देखना सपने जैसा : जोस बटलर

वोक्स ने कहा, “एलेक्स एक विश्व स्तर का खिलाड़ी है। मैंने करियर के शुरुआती दिनों से उसके साथ काफी क्रिकेट खेला है। मुझे उसके लिए थोड़ा बुरा लगता है लेकिन मैं मैनेजमेंट, कप्तान और टीम के फैसले को समझता हूं। मुझे 100 प्रतिशत नहीं पता कि क्या होगा लेकिन मैं एलेक्स को फिर से इंग्लैंड टीम में देखना पसंद करूंगा।”