बेन स्टोक्स © Getty Images
बेन स्टोक्स © Getty Images

इंग्लैंड के सबसे लोकप्रिय खिलाड़ी बेन स्टोक्स को उनकी बेबाकी के लिए जाना जाता है। जो वह जानते और मानते हैं उसको लेकर हमेशा वह अपने विचार व्यक्त करने को तैयार रहते हैं। बेन स्टोक्स हाल ही में एक बार फिर से अपने बेहतरीन अंदाज में दिखाई दिए जब उन्होंने खुले तौर पर अपने साथी खिलाड़ी जेसन रॉय का समर्थन किया। उन्होंने बताया कि जब उन्होंने देखा कि जेसन रॉय को फील्डिंग में बाधा डालने के लिए आउट करार दे दिया गया है तो वह हैरान रह गए। मैच के दृष्टिकोण के आधार रॉय का विकेट इंग्लैंड के लिए महंगा साबित हुआ।

वह बेहतरीन अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे थे और 45 गेंदों में 67 रन बना चुके थे। जब वह क्रीज पर थे तब चीजें इंग्लैंड के काफी पक्ष में नजर आ रही थी। हालांकि, उनके आउट होने के बाद इंग्लैंड की पारी डांवाडोल होने लगी। अंततः इंग्लैंड 175 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 3 रनों से मैच हार गई। इसके बाद बेन स्टोक्स ने रॉय के आउट होने पर अपनी निराश को बयां करने के लिए ट्विटर पर अपने विचार व्यक्त किए।

 

ये देखा गया कि रॉय थ्रो फेंके जाने की दिशा में दौड़ लगा रहे थे। जब बल्लेबाज ने गेंद को प्वाइंट फील्डर की ओर खेला तो रॉय रन दौड़ पड़े लेकिन उन्हें पिच के बीच से ही वापस लौटना पड़ा। उन्होंने मुड़कर फील्डर की ओर देखा और अपने रन लेने की दिशा को बदल दिया। मैदानी अंपायर ने इसे नॉट आउट करार दिया लेकिन तीसरे अंपायर ने रॉय को फील्डिंग में बाधा डालने के तहत आउट करार दे दिया।

स्टोक्स भी इसके पहले इसी अंदाज में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आउट हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास नहीं हो रहा है जिस तरह से रॉय को आउट दिया गया। उन्होंने इस निर्णय को ‘शर्मिंदगी’ वाला बताया। स्टोक्स ने ट्वीट करते हुए लिखा, “जिस तरह से जेसन रॉय को आउट दिया गया उसपर विश्वास नहीं हो रहा है। इस निर्णय के साथ शर्मिंदगी ही एक शब्द है जो जुड़ सकता है।” [इंग्लैंड बनाम दक्षिण अफ्रीका, दूसरा टी20I फुल स्कोरकार्ड, जानने के लिए यहां क्लिक करें]

उस समय शायद ही बेन स्टोक्स को पता था कि रॉय के समर्थन में किए गए उस ट्वीट के कारण उनका मजाक बनने वाला है। हालांकि, ट्विटर में लोगों ने कोई दया नहीं दिखाई और उनका जमकर मजाक बनाया। यहां तक कि उनके टीम के ही साथी खिलाड़ी एलेक्स हेल्स ने भी स्टोक्स का मजाक उड़ाया। हेल्स ने लिखा, कम से कम रॉय ने गेंद को पकड़ने का प्रयास नहीं किया।