Always had in mind to put out best cricket possible for women’s IPL: Smriti Mandhana
स्मृति मंधाना. (PC- Twitter)

भारतीय टीम की स्टार सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना (Smriti Mandhana) ने कहा कि वह अगले 12 महीने में टी20 मैचों की अधिक संख्या को देखते सबसे छोटे अंतरराष्ट्रीय प्रारूप में अपने खेल को सुधारने और अधिक स्ट्रोक खेलने की कोशिश कर रही हैं.

सोमवार से शुरु हो रही वुमेन टी20 चैलेंज लीग में गत चैम्पियन ट्रेलब्लेजर्स की अगुवाई कर रही मंधाना ने कहा, ‘‘ निजी तौर पर मैं अपने टी20 क्रिकेट पर काम कर रही हूं क्योंकि इस साल हमें बहुत सारे टी20 मैच खेलने हैं. मैं जितना शॉट खेलती थी उससे थोड़ा और अधिक शॉट खेलने की कोशिश कर रही हूं.’’

महिला टी20 चैलेंज सोमवार से 28 मई तक यहां के एमसीए स्टेडियम में खेला जायेगा. मंधाना ने कहा, ‘‘हमारे लिए घरेलू टी20 सत्र अच्छा था, इसलिए हम उस लय को इस टूर्नामेंट को जारी रखना चाहते हैं. मैं इस बारे में नहीं सोच रही हूं कि इसमें कैसे खेला जाये लेकिन मैं जितना संभव हो उतना इसका लुत्फ उठाने की कोशिश करूंगी.’’

सोमवार को सुपरनोवाज के खिलाफ अपनी टीम के पहले मैच के बारे में पूछे जाने पर मंधाना ने कहा कि सोफी एक्लेस्टोन और अलाना किंग की स्पिन जोड़ी चुनौती पेश करेगी लेकिन उनकी टीम के पास इससे निपटने की योजना है. उन्होंने कहा, ‘‘ हमारे पास अपनी रणनीतियां तैयार हैं, उनके पास अच्छी गेंदबाजी इकाई है, खासकर सोफी (एक्लेस्टोन) और (अलाना) किंग के साथ स्पिन विभाग मजबूत है.’’

सुपरनोवाज की कप्तान हरमनप्रीत कौर का मानना है कि महिला टी20 चैलेंज तेज गेंदबाज मानसी जोशी के लिए खुद को साबित करने और भारतीय टीम में अपनी जगह वापस पाने के लिए एक अच्छा मंच साबित होगा.

पंजाब की 28 वर्षीय जोशी कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाये जाने के बाद टूर्नामेंट के 2020 सत्र में भाग नहीं ले सकी थी. हरमनप्रीत ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, ‘‘ दुर्भाग्य से पिछली बार उसे खेलने का मौका नहीं मिला था, लेकिन इस बार उसने घरेलू सत्र में अच्छा प्रदर्शन किया और अब नेट सत्र में भी वह वास्तव में अच्छा कर रही है. यह उसके लिए एक अच्छा अवसर है. हमारे पास एक अच्छी टीम है और मैं वास्तव में एक सकारात्मक सत्र की उम्मीद कर रहा हूं.’’