Ambati Rayudu retires from the longer format of the game
ambati-rayudu (PTI Photo)

भारतीय वनडे टीम के चौथे क्रम के बल्‍लेबाज अंबाती रायडू ने शनिवार को क्रिकेट के लंबे प्रारूप (फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट) से संन्‍यास ले लिया।

हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन (एचसीए) ने इसकी पुष्टि शनिवार को की। रायडू को पिछले महीने यूएई में संपन्‍न एशिया कप में टीम में शामिल किया गया था। इसके बाद उन्‍होंने वेस्‍टइंडीज के खिलाफ संपन्‍न हुई 5 मैचों की वनडे सीरीज में अपनी बल्‍लेबाजी कौशल से सभी को प्रभावित किया था।

रायडू अगले वर्ष इंग्‍लैंड में होने वाले विश्‍व कप के लिए टीम इंडिया में शामिल होने के प्रबल दावेदार बन गए हैं। रायडू ने अब तक कोई टेस्‍ट मैच नहीं खेला है।

‘ लिमिटेड ओवर के क्रिकेट पर फोकस करना चाहते हैं’ 

33 साल के अंबाती रायडू अब अपना पूरा ध्‍यान लिमिटेड ओवर के क्रिकेट पर लगाना चाहते हैं इसलिए उन्‍होंने लंबे प्रारूप से संन्‍यास लेने का फैसला लिया है। मौजूदा रणजी सीजन में वो हैदराबाद टीम में शामिल नहीं होंगे। एचसीए ने रायडू के हवाले से कहा कि उन्‍होंने बीसीसीआई, एचसीए, एसीए, बीसीए और वीसी सभी एसोसिएशन का धन्‍यवाद किया है जिनके लिए उन्‍होंने प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं।

एचसीए ने रायडू के हवाले से बयान में बताया, ‘ हैदराबाद टीम के कप्‍तान और भारतीय वनडे टीम के सदस्‍य ने क्रिकेट के लंबे प्रारूप से संन्‍यास लेने का फैसला किया है जिसमें रणजी ट्रॉफी भी शामिल है। वो अपना पूरा ध्‍यान लिमिटेड ओवर के क्रिकेट और टी-20 में लगाना चाहते हैं। वो इंटरनेशनल और घरेलू स्‍तर पर छोटे फॉर्मेट में खेलते रहेंगे।’