अमित मिश्रा और रोहित शर्मा © AFP (File Photo)
अमित मिश्रा और रोहित शर्मा © AFP (File Photo)

अमित मिश्रा भले ही अब तक खुद को साबित ना कर पाएं हों लेकिन सीमित ओवरों में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया था। मिश्रा ने कहा कि टीम में जगह बनाने के लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा है और टीम में जगह पक्का कर पाना काफी मुश्किल है। मिश्रा ने टीम इंडिया के कोच अनिल कुंबले की तारीफ करते हुए कहा कि कुंबले हर खिलाड़ी का बहुत साथ देते हैं और टीम के हर खिलाड़ि को उनसे सीखने को मिलता है।

मिश्रा ने कहा कि कुंबले हमेशा मुझे अच्छा करने के लिए प्रेरित करते हैं पहले मुझे उनसे बात करने में थोड़ा घबराहट होती थी लेकिन अब ऐसा नहीं है। अब मैं उनसे खुल कर कुछ भी पूस लेता हूं, अब वह दोस्त हैं और उनसे कुछ भी पूछने या बात करने में ज्यादा हिचकिचाहट नहीं होती। मिश्रा ने कहा कि बीते साल मैंने सीखा कि अगर टीम में जगह स्थापित करनी है तो आपको अपनी फिटनेस पर खासा ध्यान देना होगा। चोटिल होने के बाद वापसी करना काफी मुश्किल होता है। इसी के मद्देनजर मैंने अपनी दिनचर्या में काफी बदलाव किया है और अपना वजन भी कम किया है। इसके अलावा भी मैं अब पहले से ज्यादा मेहनत कर रहा हूं।   ये भी पढ़ें: रोमांचक मुकाबले में जब भारत ने पाकिस्तान को हराया और जीत लिया था सिल्वर जुबली इंडिपेंडेंस कप

आपको बता दें कि न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में मिश्रा ने बेहतरीन गेंदबाजी की थी और टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार प्रदर्शन के बाद मिश्रा को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भी शामिल किया गया था लेकिन इस सीरीज में वह अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहे थे। मिश्रा ने माना कि टीम में अब जगह बनाना आसान नहीं है और हर जगह के लिए कड़ी प्रतिस्पर्धा है। ऐसे में अगह आपको टीम में बने रहना है तो आपको शानदार प्रदर्शन करना होता और साथ ही अपनी फिटनेस भी बरकरार रखनी होगी।