इंग्लैंड के पूर्व ऑलराउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने अपने देश की क्रिकेट टीम का कोच बनने की इच्छा जाहिर की है। टीम के मौजूदा कोच ट्रेवर बेलिस इंग्लैंड में जारी प्रतिष्ठित एशेज सीरीज के बाद अपने पद से हट जाएंगे और उनके बाद टीम का कोच कौन होगा, इसकी घोषणा अभी तक नहीं हुई है।

बीबीसी ने फ्लिंटॉफ के हवाले से बताया, “कोचिंग एक सपना जरूर है। दो या तीन टीमें हैं जिनका मैच कोच बनना चाहूंगा- इंग्लैंड, लैंकशायर या लैंकशायर अकादमी। मैं एक दिन इंग्लैंड का कोच भी बनना चाहूंगा, लेकिन अभी उसका समय नहीं आया है।”

उन्होंने बताया कि उन्होंने 2014 में राष्ट्रीय टीम का कोच बनने के लिए आवेदन किया था। फ्लिंटॉफ ने कहा, “कुछ साल पहले मैंने इंग्लैंड का कोच बनने के लिए आवेदन किया था। हम हार रहे थे, मैं ऑफिस में था और मैंने सोचा कि मैं इसके लिए अपना नाम आगे करूंगा।”

अब्दुल कादिर के मुरीद थे पूर्व कप्तान इमरान खान

उन्होंने बताया, “मैंने इंटरव्यू के लिए एक ई-मेल लिखा, एक महीना बीत गया, लेकिन मुझे कोई जवाब नहीं मिला। मैंने कोशिश की और फिर मुझे किसी ने फोन करके बताया कि कोच कोई और बन रहा है।”

फ्लिंटॉफ ने 2009 में क्रिकेट से संन्यास लिया था। उन्होंने इंग्लैंड के लिए 79 टेस्ट, 141 वनडे और सात टी-20 मुकाबले खेले हैं।