महेंद्र सिंह धोनी © Getty Images
महेंद्र सिंह धोनी © Getty Images

महेंद्र सिंह धोनी के टीम के कप्तानी पद से इस्तीफा देने के बाद हर कोई अपने-अपने तरीके से उन्हें बधाई दे रहा है। पहले राहुल द्रविड़ ने कहा था कि इतिहास धोनी को सबसे सफल कप्तान के रूप में याद रखेगा। तो अब टीम के मुख्य कोच अनिल कुंबले ने भी धोनी की तारीफों के पुल बांधे हैं। कुंबले ने कहा कि बतौर कप्तान धोनी का करियर बेहद ही खास रहा है। धोनी ने बतौर कप्तान बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

कुंबले ने कहा, ‘धेनी ने हमेशा ही बतौर कप्तान शानदार खेल दिखायै है, उनकी कप्तानी की सबसे खास बात ये रही कि उन्होंने अपनी कप्तानी में वरिष्ठ खिलाड़ियों का बहुत अच्छा उपयोग किया और उन्हें बेहतरीन ढंग से संभाला।’ आपको बता दें कि 2008 में कुंबले के संन्यास लेने के बाद ही धोनी ने भारतीय टीम की बागडोर संभाली थी। ऐसे में कुंबले ने कहा कि मैंने जब संन्यास लेने का ऐलान किया था तो मेरी उम्र हो गई थी और मेरे लिए ये कहना आसान था कि धोनी को अब जिम्मेदारी दे देनी चाहिए। उस समय मैं शारीरिक रूप से फिट नहीं था और मेरी उम्र लगातार बढ़ रही थी। इसलिए मैंने सोचा कि मेरे लिए छोड़ने का सही समय है और धोनी भी कप्तानी संभालने के लिए तैयार थे। ये भी पढ़ें: युवराज सिंह के लिए निर्णायक साबित हो सकती है इंग्लैंड सीरीज

कुंबले ने आगे कहा कि धोनी की कप्तानी के (2007 से 2017) दस साल शानदार रहे, इस दौरान धोनी ने देश को कई बार गौरवान्वित होने का अवसर दिया। साथ ही धोनी की कप्तानी में सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण, वीरेंद्र सहवाग जैसे दिग्गज खेले और धोनी ने इन सभी का उपयोग बेहद ही शानदार तरीके से किया। उन्होंने कहा, धोनी ने उन सभी से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कराया जो टीम के काफी काम आया। नंबर एक टेस्ट टीम के तौर पर ही नहीं, बल्कि बाद में विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी जीतने के बाद भी धोनी ने कई ऐतिहासिक जीत भारत को दिलाईं।

वहीं विराट कोहली के बारे में बोलते हुए कुंबले ने कहा कि कोहली के अंदर वो सभी काबिलियत है जो उन्हें शानदार कप्तान बनाता है और आने वाले समय में वह टीम को बहुत आगे लेकर जाएंगे। वहीं वनडे सीरीज पर बोलते हुए कुंबले ने कहा कि चैंपियंस ट्रॉफी के लिहाज से ये सीरीज काफी अहम है और हम इस सीरीज में अपना सर्वश्रेष्ठ देने की पूरी कोशिश करेंगे।