Anil Kumble: When virat crosses 20, 30 mark, he got to take the hundred
Virat Kohli with Anil Kumble (File Photo) © Getty Images

भारतीय टीम के पूर्व कप्‍तान अनिल कुंबले का मानना है कि विराट कोहली के लगातार सफल होने का कारण उनकी अच्‍छी तकनीक के साथ-साथ मजबूत मानसिक स्थिति है। विराट से अच्‍छे संबंध नहीं होने के कारण ही अनिल कुंबले द्वारा साल 2017 में भारतीय टीम के कोच पद को छोड़ने की खबरे सामने आई थी।

अनिल कुंबले ने क्रिकेट नेक्‍सट से बातचीत के दौरान कहा, “निश्चित तौर पर विराट कोहली इस वक्‍त अपने करियर में पीक पर है। जब आप विराट के करियर को देखते हो तो एक चीज साफ हो जाती है कि वो न सिर्फ अपने खेल में सुधार करता रहता है बल्कि उसे एक नए स्‍तर पर ले जाता है। कंडीशन चाहे जैसी भी हो, मानसिक रूप से वो काफी मजबूत है। उसमें काबिलियत है कि वो अपनी बल्‍लेबाजी से टीम को आगे लेकर जाए।”

पढ़ें:- बॉक्सिंग डे टेस्ट में रविचंद्रन अश्विन के खेलने पर संशय, जडेजा भी चोटिल

अनिल कुंबले ने कहा कि विराट अब काफी परिपक्‍व हो गया है। आप उसे ज्‍यादा खराब शॉट खेलते हुए नहीं देखेंगे। वो ज्‍यादा हवाई शॉट नहीं लगाता है। जब वो निचले क्रम के बल्‍लेबाजों के साथ खेलता है तो आपने देखा होगा कि किस तरह से वो गेम को कंट्रोल करता है

पढ़ें:- बॉक्सिंग डे टेस्ट में रविचंद्रन अश्विन के खेलने पर संशय, जडेजा भी चोटिल

अनिल कुंबले ने कहा, “जब भी वो 20 या 30 रन बना लेता है तो उसे शतक में तब्‍दील कर देता है। ये ही विराट कोहली के खेल की खूबसूरती है। वो अच्‍छी शुरुआत को बड़े स्‍कोर में बदलता है। रहाणे और सलामी बल्‍लेबाजों को विराट से कुछ सीखना चाहिए। विराट के खेल में निरंतरता है। ये उसकी खेलने की कला और मानसिक तौर पर मजबूती के कारण है।”

कुंबले ने कहा कि विराट क्रिकेट से बाहर की सभी ध्‍यान भंग करने वाली चीजों को पीछे छोड़ते हुए मैदान पर उतरता है और रन बनाता है। विराट खेल के सभी फॉर्मेट में अच्‍छा प्रदर्शन कर रहा है। वो बल्‍लेबाजी का एकमात्र सुनहरा हिस्‍सा है। भारतीय बल्‍लेबाजी विदेशों में फ्लॉप नजर आई, लेकिन विराट ने भारत से बाहर भी लगातार रन बनाए।