Armaan Jaffer score an unbeaten 300 for Mumbai in the CK Nayudu Trophy 2018-19
Arman-Jaffer © Arman Jaffer’s Facebook page

घरेलू क्रिकेट के दिग्‍गज वसीम जाफर के भतीजा अरमान जाफर नाबाद तिहरा शतक जड़कर फिर सुर्खियों में हैं।

20 वर्ष के अरमान ने सीके नायडू 2018-19 ट्रॉफी चार दिवसीय टूर्नामेंट के अंडर-23 वर्ग में मुंबई की ओर से खेलते हुए सौराष्‍ट्र के खिलाफ 367 गेंदों पर नाबाद 300 रन बनाए। इस दौरान उन्‍होंने 26 चौके और 10 छक्‍के लगाए।

वानखेड़े स्‍टेडियम जारी इस मैच में मुंबई ने अरमान की शानदार पारी के बूते अपनी पारी 5 विकेट पर 610 रन पर घोषित की। जवाब में सौराष्‍ट्र की टीम 175 रन पर ऑलआउट हो गई।

20 साल के अरमान ने मुंबई की ओर से अब तक 3 प्रथमश्रेणी मैच रणजी में खेले हैं। वो इस मैच में चौथे नंबर पर बल्‍लेबाजी के लिए उतरे थे जब उनकी टीम लगातार दो विकेट खोकर संघर्ष कर रही थी। मुंबई ने छठे ओवर में 12 रन पर अपने दो विकेट गंवा दिए थे।

ओपनर रुद्र ने 216 गेंदों पर 166 रन बनाए। दोनों बल्‍लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 281 रन की साझेदारी की। अरमान ने अक्षय सरदेसाई (46) रन जोड़े जबकि कप्‍तान शाम्‍स मुलानी (87) के साथ 182 रन की साझेदारी की। अरमान यहीं नहीं रूके उन्‍होंने सिदार्थ अकरे (नाबाद 20) के साथ 89 रन जोड़े।

अरमान के तिहरा शतक पूरा होने के साथ ही मुंबई के कप्‍तान मुलानी ने पारी घोषित कर दी। मुंबई की टीम इस समय एलीट ग्रुप ए और बी प्‍वाइंट्स टेबल में छठे स्‍थान पर है।

अरमान 2016 जूनियर वर्ल्‍ड कप में अंडर-19 भारतीय टीम के हिस्‍सा थे।

अरमान ने 15 साल की उम्र में खेली थी 473 रन की पारी

अरमान जब 15 साल के थे तब उन्‍होंने 473 रन की पारी खेली थी। साल 2013 में हैरिस शील्‍ड स्‍कूल टूर्नामेंट में अरमान ने अपने स्‍कूल रिज्‍वी स्प्रिंगफील्‍ड के लिए आईईएस सुले गुरुजी स्‍कूल के खिलाफ ये शानदार पारी खेली थी। अरमान ने इस दौरान 369 गेंदों पर 65 चौके और 16 छक्‍के लगाए थे। उन्‍होंने 437 मिनट पर क्रीज पर बिताए थे। अरमान जाफर इससे पहले 2010 में उस वक्त सुर्खियों में आए जब उन्होंने रिज्‍वी स्प्रिंगफील्ड स्कूल की ओर से खेलते हुए 498 रन की पारी खेली थी।