×

चाहे छह गेंदबाज हों या नौ कोई फर्क नहीं पड़ता… अर्शदीप ने ऐसा क्यों कहा

अर्शदीप सिंह ने कहा कि वह बैटिंग ऑर्डर को लेकर बहुत ज्यादा परेशान नहीं हैं.

arshdeep singh on india lost

arshdeep singh on india lost

तारोबा: बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह (Arshdeep Singh) ने वेस्टइंडीज के हाथों पहले टी20 मैच में भारत की अप्रत्याशित हार के बाद टीम में पुछल्ले बल्लेबाजों की भरमार को लेकर जताई जा रही चिंता को खारिज करते हुए कहा कि हारने के बाद ही ऐसी बातें होती है.

पांच मैचों की सीरीज के पहले मैच में भारत के विशेषज्ञ बल्लेबाजों की सूची छठे नंबर पर संजू सैमसन (Sanju Samson) के बाद ही खत्म हो गई. भारत को पहले मैच में चार रन से पराजय का सामना करना पड़ा. टीम के बल्लेबाजी क्रम के बारे में सवालों पर अर्शदीप ने कहा कि चिंता की कोई बात नहीं है.

उन्होंने कहा, ‘मैच के बाद इस तरह की बातें होती है. हमने जो एकादश उतारी, हमें यकीन था कि हम मैच जीतेंगे. हम हमेशा अपनी अंतिम एकादश के साथ होते हैं, चाहे इसमें छह गेंदबाज हों या नौ. इससे फर्क नहीं पड़ता.’

वेस्टइंडीज की पारी के 19वें ओवर में चार वाइड गेंद डालने वाले अर्शदीप ने कहा कि टीम इस हार की समीक्षा करेगी.

अर्शदीप ने कहा ,‘एक बल्लेबाज को आखिर तक टिकना चाहिए था क्योंकि आखिरी दो ओवर में 30 गज के भीतर पांच फील्डर थे.’

उन्होंने कहा ,‘हम हार की समीक्षा करेंगे. यह देखेंगे कि कहां चूक हुई और उसमें क्या सुधार हो सकता है.’

trending this week