Ashes 2019, England vs Australia, day-4: Steve Smith stars again as Australia close to victory
steven smith (File Photo) @ AFP

ऑस्ट्रेलिया ने एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट मैच के चौथे दिन शनिवार को इंग्लैंड पर शिकंजा कस मैच का रुख अपनी तरफ मोड़ लिया है।

ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के सामने 383 रनों की चुनौती रखी है, लेकिन दिन का खेल खत्म होने तक इंग्लैंड ने 18 रनों पर ही दो विकेट खो दिए हैं और वह अभी भी लक्ष्य से 365 रन दूर है।

पढ़ें:- राजस्‍थान क्रिकेट संघ पर ललित मोदी के समय से लगा बैन BCCI ने हटाया, ये है वजह

आखिरी दिन जहां ऑस्ट्रेलिया को जीतने के लिए आठ विकेट चाहिए वहीं इंग्लैंड की कोशिश विकेट पर पैर जमा मैच ड्रॉ कराने की होगी।

ऑस्ट्रेलिया को इस स्थिति में पहुंचाने में स्टीवन स्मिथ का बड़ा हाथ है। ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ के पहली पारी में बनाए दोहरे शतक (211) के दम पर अपनी पारी आठ विकेट के नुकसान पर 497 रनों पर घोषित कर दी। स्मिथ के बाद ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन कर इंग्लैंड को 301 रनों पर समेट दिया।

ऑस्ट्रेलिया दूसरी पारी में 196 रनों की बढ़त के साथ उतरी थी और इंग्लैंड की कोशिश थी कि वह उसे ज्यादा रन नहीं बनाने दे। इंग्लैंड ने शुरुआत भी ऐसी ही की और 24 के कुल स्कोर तक ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट चटका दिए, लेकिन एक बार फिर स्मिथ डट गए और 92 गेंदों पर 11 चौकों की मदद से 82 रनों की पारी खेल ऑस्ट्रेलिया को संभाल लिया।

पढ़ें:- भारत पहुंची साउथ अफ्रीकी टीम, जानें पूरा कार्यक्रम

इसमें मैथ्यू वेड ने 34 रन बनाकर उनका अच्छा साथ दिया। दोनों हालांकि आउट हो गए थे। कप्तान टिम पेन (नाबाद 23) ने दिन के आखिरी सत्र में ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी छह विकेट के नुकसान पर 186 रनों पर घोषित कर इंग्लैंड को विशाल स्कोर दिया।

अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी इंग्लैंड वैसे ही दवाब में थी। पैट कमिंस ने पारी की तीसरी और चौथी गेंदों पर दो लगातार विकेट उसे और परेशान कर दिया। इंग्लैंड अपने दो विकेट बिना रन बनाए खो चुकी थी। कमिंस ने पहले रोरी बर्न्‍स को आउट किया और अगली गेंद पर कप्तान जो रूट को।

इन दोनों द्वारा पहली पारी में बनाए गए अर्धशतकों की मदद से ही इंग्लैंड संभल सकी थी। बर्न्‍स ने पहली पारी में 81 और रूट ने 71 रन बनाए थे।

इससे पहले इंग्लैंड ने दिन की शुरुआत अपनी पहली पारी के स्कोर पांच विकेट के नुकसान पर 200 रनों के साथ की थी। उस पर फॉलोऑन का खतरा मंडरा रहा था लेकिन जोस बटलर ने 41 रनों की पारी खेल उसे किसी तरह डाल दिया। पिछले मैच के हीरो रहे बेन स्टोक्स पहली पारी में 26 रन ही बना सके।