ashes 2021 22 series would not want ashes to postponed says andrew strauss
एंड्र्यू स्ट्रॉस @ICCTwitter

इस साल के अंत में होने वाली बहुप्रतिक्षित एशेज सीरीज (Ashes 2021-22) पर स्थगित होने के बादल अभी तक मंडरा रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया में इन दिनों कोरोना वायरस के चलते सख्त प्रोटोकॉल नियम जारी हैं. ऐसे में इंग्लिश क्रिकेटरों (Australia vs England Ashes Series) को अपने परिवार के बिना वहां जाना होगा, जिसके लिए इंग्लिश खिलाड़ी तैयार नहीं हैं. इंग्लिश टीम को यहां करीब दो महीने लंबा दौरा करना है और ऐसे में वह अपने परिवार के बिना ऑस्ट्रेलिया में बायो बबल में रहना नहीं चाहते. हालांकि इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) ने भरोसा जताया है कि दोनों क्रिकेट बोर्ड इस महत्वपूर्ण सीरीज के लिए कोई न कोई रास्ता जरूर निकालेंगे.

एंड्रयू स्ट्रॉस (Andrew Strauss) ने कहा है कि वह इस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया में होने वाली एशेज सीरीज को स्थगित करने के पक्ष में नहीं हैं. उन्होंने यह भी कहा है कि लंबे टूर पर जा रहे खिलाड़ियों के परिवारों को भी दौरे पर साथ ले जाने के लिए इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड को कोई रास्ता निकालना चाहिए.

इंग्लैंड की पूर्व पुरुष टीम के क्रिकेट निदेशक और इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) क्रिकेट समिति के वर्तमान अध्यक्ष स्ट्रॉस (Andrew Strauss) को लगता है कि दौरे को किसी भी तरह आगे बढ़ना चाहिए, जबकि माइकल वॉन (Michael Vaughan) और एलिस्टेयर कुक (Alastair Cook) जैसे एशेज विजेता कप्तानों ने इसकी आलोचना की है. खिलाड़ियों के परिवारों पर बिना कोई फैसले के सीरीज को आगे नहीं बढ़ाना चाहिए.

वॉन ने कहा है, अगर खिलाड़ियों को अपने परिवार के सदस्यों को अपने साथ रखने की अनुमति नहीं है, तो दौरे को रद्द कर दिया जाना चाहिए. इंग्लिश क्रिकेट टीम नवंबर में ऑस्ट्रेलिया की यात्रा करेगी और 8 दिसंबर से ब्रिस्बेन के गाबा में पहला एशेज टेस्ट खेलेगी.

लॉर्डस में मंगलवार को स्ट्रॉस ने कहा, मैं ये कभी नहीं चाहूंगा कि सीरीज रद्द हो जाए. मैं बस यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि खिलाड़ियों के परिवार भी उनके साथ वहां पहुंच सकें. ब्रिटिश मीडिया ने हाल की रिपोर्टों में दावा किया है कि अगर ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड के खिलाड़ियों और उनके साथ परिवारों को अनुमति देने से इनकार करता है, तो इंग्लैंड के कई खिलाड़ी इस दौरे से अपना नाम वापस ले सकते हैं.

ईसीबी ने एशेज के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खिलाड़ियों को अपनी पत्नियों और भागीदारों के साथ यात्रा करने के संभावना पर चर्चा करने का वादा किया है.

(इनपुट: आईएएनएस)