Happy Birthday Ashish Nehra: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (Ashish Nehra) आज यानी 29 अप्रैल 2020 को अपना 41वां जन्मदिन मना रहे हैं. अपने 18 साल के करियर में चोट के कारण ये बाएं हाथ का पेसर टीम इंडिया से अंदर-बाहर होता रहा. नेहरा ने अपना टेस्ट डेब्यू श्रीलंका के खिलाफ फरवरी 1999 में कोलंबो में किया था जबकि जून 2001 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे इंटरनेशनल में पदार्पण किया.

आशीष नेहरा ने धोनी को दी थी गाली, अब VIDEO वायरल हुआ तो देनी पड़ी सफाई

नेहरा ने अपना अंतिम इंटरनेशनल मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ 01 नवंबर 2017 को घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला ग्राउंड पर खेला. इसके बाद इस लंबे कद के गेंदबाज ने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा दिया था. लंबे क्रिकेट करियर में नेहरा को 12 बार सर्जरी से गुजरना पड़ा जो एक तेज गेंदबाज के लिए बेहद दर्दनाक था।

विराट से अपने रिश्ते को लेकर क्यों बोले नेहरा जी- ‘मतभेद तो मियां-बीबी में भी होते हैं’

क्रिकेट से संन्यास के बाद नेहरा कुछ समय के लिए कमेंट्री बॉक्स की शोभा बढ़ाते हुए दिखाई दिए थे. वह वर्तमान में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर टीम के गेंदबाजी कोच भी हैं जिसकी कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) करते हैं. नेहरा अपने टीम साथियों के बीच ‘नेहराजी’ के नाम से जाने जाते थे. नेहरा ने कोच तारिक सिन्हा के मार्गदर्शन में क्रिकेट की बारिकियां सीखी. टी-20 इंटरनेशनल में सबसे उम्रदराज खिलाड़ियों में डेब्यू करने के मामले में नेहरा दूसरे दूसरे भारतीय हैं.

वर्ल्ड कप में किया करियर का बेस्ट प्रदर्शन

दिल्ली के इस तेज गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2003 वर्ल्ड कप (ICC CRICKET WORLD CUP 2003)  में आया. वर्ल्ड कप का वो मुकाबला आज भी फैंस के जेहन में ताजा है. लीग मैच में भारत का सामना इंग्लैंड से था. सुपर सिक्स में पहुंचने के लिए टीम इंडिया के लिए ये मैच जीतना बेहद जरूरी था. नेहरा ने अपने 10 ओवर के कोटे में महज़ 23 रन दिए और 6 विकेट अपने नाम किए. नेहरा के इस वनडे करियर बेस्ट प्रदर्शन के दम पर भारत ने धमाकेदार जीत दर्ज की. इस दौरान नेहरा ने मैदान पर कई बार उल्टियां भी की लेकिन बावजूद इसके उन्होंने अपने कोटे के पूरे 10 ओवर पूरे किए. इस मैच में उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया था.

इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल 235 विकेट हैं नेहरा के नाम

आशीष नेहरा ने 164 इंटरनेशनल मैचों में कुल 235 विकेट अपने नाम किए. इसके अलावा उन्होंने 120 वनडे में 157, 27 टी-20 मैचों में 34 और 17 टेस्ट मैच 44 विकेट चटकाए.