Asia Cup Final: Team India looks to remain king of Asia
India have been the only unbeaten team in the Asia Cup 2018 (AFP Photo)

डिफेंडिंग चैंपियन भारत आज एशिया कप-2018 के फाइनल में दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में बांग्लादेश के सामने होगी। भारतीय टीम का इरादा रिकॉर्ड सातवीं बार खिताब जीतना होगा तो बांग्लादेश पहली बार इसे हासिल करना चाहेगी।

भारत ने 2016 में भी फाइनल में बांग्लादेश को हराकर अपना छठा एशिया कप खिताब जीता था। बांग्लादेश तीसरी बार फाइनल में पहुंचा है, पहले दो मौकों पर वह जीत हासिल करने से चूक गया था लेकिन इस बार उसकी कोशिश भारतीय चुनौती को समाप्त कर पहला खिताब जीतने की होगी।

बांग्लादेश अपने चोटिल खिलाड़ियों की समस्या से जूझ रही है। तमीम इकबाल पहले ही टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं। अब हरफनमौला खिलाड़ी शाकिब अल हसन भी चोट के कारण स्वदेश लौट गए हैं। ऐसे में टीम की बल्लेबाजी कमजोर सी लग रही है।

टीम के पास हालांकि मुशफिकुर रहीम, मोहम्मद मिथुन, लिट्टन दास और महामुदुल्लाह जैसे बल्लेबाज हैं जो टीम को मजबूत स्कोर तक पहुंचा सकते हैं। वहीं निचले क्रम में टीम को मशरेफ मर्तुजा से तेज पारी की उम्मीद होगी।

भारत की बात की जाए तो उसकी बल्लेबाजी कप्तान रोहित शर्मा और शिखर धवन के जिम्मे है। टीम की समस्या यह है कि अगर इन दोनों में से कोई भी बल्लेबाज विफल हो जाता है तो टीम लडखड़ा जाती है। पिछले मैच में दोनों बल्लेबाज बाहर बैठे थे। तब लोकेश राहुल और अंबाती रायडू ने अर्धशतकीय पारियां खेलीं थीं, लेकिन मध्यक्रम विफल ही रहा था।

अब जबकि रोहित और धवन दोनों फाइनल में उतरेंगे तब देखना यह होगा कि टीम प्रबंधन बाहर किसे बैठाता है। पिछले मैच में टीम ने युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह को भी आराम दिया था। यह तीनों भी इस फाइनल में वापसी करेंगे।

टीम की गेंदबाजी की जिम्मेदारी बुमराह और भुवनेश्वर पर ही होगी। वहीं बांग्लादेशी मध्यक्रम के सामने चहल, कुलदीप यादव और रवींद्र जडेजा की स्पिन तिगड़ी का सामना करना आसान नहीं होगा।

बांग्लादेश की गेंदाबाजी का जिम्मा मुस्ताफीजुर रहमान, मुर्तजा के कंधों पर होगा। स्पिन में शाकिब की कमी टीम को खलेगी लेकिन मेहेदी हसन मिराज की फॉर्म भारतीय बल्लेबाजों को परेशान कर सकती है।

टीमें :

भारत : रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन (उपकप्तान), लोकेश राहुल, अंबाती रायडू, मनीष पांडे, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, दिनेश कार्तिक, दीपक चहर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, सिद्धार्थ कौल और खलील अहमद।

बांग्लादेश : मशरफे मुर्तजा (कप्तान), लिटन दास, मुश्फिकुर रहीम, महमुदुल्लाह, मोहम्मद मिथुन, मोसादिक हुसैन, मेहदी हसन, रूबैल हुसैन, मुस्ताफिजुर रहमान, अबु हैदर, आरिफ हक, मोमिनुल हक, नजमुल हुसैन शंटो, नजमुल इस्माल।

(एजेंसी न्यूज)