ऑस्ट्रेलिया ने फाॅर्म में चल रहे डेविड वार्नर (David Warner) के लगातार तीसरे अर्धशतक की बदौलत शुक्रवार को श्रीलंका को सात विकेट से मात देकर तीन मैचों की टी20 सीरीज में क्लीन स्वीप कर दिया।

घरेलू टीम ने पूरी सीरीज में दबदबा बनाये रखा और एडिलेड में 134 रन से और फिर ब्रिस्बेन में सात ओवर शेष रहते नौ विकेट से जीत हासिल की।

श्रीलंका की बल्लेबाजी अब तक लचर रही थी लेकिन उसने तीसरे टी20 में कुसल परेरा के 57 रन के दम पर छह विकेट पर 142 रन का प्रतिस्पर्धी स्कोर खड़ा किया।

हालांकि लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga) की अगुआई में उसके गेंदबाज ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी लाइन-अप को चुनौती नहीं दे पाये जिसमें वार्नर अपना विकेट गंवाये बिना तीन पारियों में 217 रन बना चुके हैं।

पढ़ें:- Deodhar Trophy: मयंक-गिल ने जड़ा शतक, टूर्नामेंट के इतिहास में बना सबसे बड़ा स्‍कोर

लक्ष्य का पीछा करते हुए शुरू में सलामी बल्लेबाज एरोन फिंच और वार्नर दोनों के कैच छूटे और इसका श्रीलंका को खामियाजा भुगतना पड़ा क्योंकि इन दोनों ने पहले विकेट के लिये 69 रन की भागीदारी निभा ली।

फिंच ने 37 रन की पारी में तीन बड़े छक्के जड़े। उन्हें लाहिरू कुमारा ने आउट किया। स्टीव स्मिथ हालांकि नौ गेंद खेलने के बाद 13 रन के निजी स्कोर पर डीप में कैच आउट हुए।

शुरूआती दो मैचों में नाबाद 100 और नाबाद 60 रन की पारियां खेलने वाले वार्नर ने 44 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और 57 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्हें एशटन टर्नर का साथ मिला जिन्होंने 22 रन बनाये जिससे ऑस्ट्रेलिया ने 14 गेंद रहते तीन विकेट पर 145 रन बनाकर जीत हासिल की।

पढ़ें:- बांग्‍लादेशी कोच बोले- हम किसी से शिकायत नहीं कर रहे हैं लेकिन…

इससे पहले फिंच ने टाॅस जीतकर श्रीलंका को बल्लेबाजी का न्यौता दिया जिसकी शुरूआत अच्छी नहीं रही और उसने डिकवेला का विकेट पहली ही गेंद पर गंवा दिया। कुसाल मेंडिस (13) और परेरा ने कुछ आक्रामकता दिखायी और कुछ चौके जमाये पर मेंडिस डीप स्क्वायर में लपके गये।

इसके बाद परेरा और अविष्का फर्नांडो ने 43 रन की भागीदारी निभाकर स्कोर दो विकेट पर 65 रन तक पहुंचाया। यह भागीदारी सीरीज में टीम की सबसे बड़ी साझेदारी है। लेकिन जल्द ही फर्नांडो के 20 रन पर आउट होने से यह साझेदारी टूटी।