Australia finished it with their noses in front at a seamer’s wicket, says Allan Border
Mitchell Starc, Pat Cummins. Josh Hazlewood, Nathan Lyon © Getty Images

मार्कस हैरिस और एरोन फिंच की सलामी जोड़ी की शानदार साझेदारी और ट्रेविस हेड के अर्धशतक की मदद से ऑस्ट्रेलिया टीम ने पर्थ टेस्ट की पहली पारी में 326 का स्कोर बनाया। पर्थ के नए ऑप्टस स्टेडियम की सीम विकेट पर भारतीय तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहा हालांकि पूर्व क्रिकेटर एलेन बॉर्डन का कहना है कि भारतीय पेसर्स ने ज्यादा शॉर्ट गेंदे कराई।

हसी ने कहा, अश्विन की चोट भारतीय टीम को अस्थिर कर सकती है

फॉक्स स्पोर्ट्स के अपने कॉलम में बॉर्डर ने लिखा, “बाहरी किनारे से लगकर गई गेंदो की संख्या को देखते हुए भारत को लगेगा कि ये दिन उनके लिए और बेहतर हो सकता था। उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की लेकिन अगर मैं कड़ी आलोचना करूं तो उन्होंने ज्यादा शॉर्ट गेंद कराई। बाहरी किनारे से लगने वाली गेंदो को देखते हुए आपको और फुल साइड की तरफ गेंदबाजी करनी थी। आपको कभी कभार मार पड़ती लेकिन कोई भी गेंद जो सीम पर घूमती, उस पर किनारा लगने की गुंजाइश बढ़ जाती।”

पूर्व ऑस्ट्रेलिया कप्तान का कहना है कि ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज इन हालातों को बेहतर फायदा उठा पाएंगे। उन्होंने लिखा, “ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी खबर ये है कि उनके गेंदबाजों ने सीख लिया होगा कि क्या काम करेगा और क्या नहीं, जब उनकी बारी आएगी तो वो आत्मविश्वास के साथ गेंदबाजी करेंगे। पिच पर असमान उछाल और सीम पर घूमने वाली गेंदो की संख्या उन्हें प्रेरित करने के लिए काफी है।” बॉर्डर की बात सही भी साबित हुई, क्योंकि ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने भारतीय पारी के तीसरे ही ओवर में मुरली विजय को आउट कर मेजबानों को पहली सफलता दिलाई।

पर्थ की पिच पर गेंदबाजी करना पसंद करेंगे नाथन लियोन: एरोन फिंच

जैसा कि कई क्रिकेट समीक्षक पहले भी कह चुके हैं बॉर्डर ने भी माना कि टीम इंडिया ने पर्थ में स्पेशलिस्ट स्पिन गेंदबाज ना खिलाकर गलती की है। उन्होंने लिखा, “खेल में आगे बढ़ते हुए हम देखेंगे कि भारत ने स्पेशलिस्ट स्पिनर ना खिलाकर कुछ मिस किया है या नहीं। पार्ट टाइस स्पिनर हनुमा विहारी के दो विकेट लेने के बावजूद, मुझे अब भी लगता है कि ये सीमर का विकेट है।”

बॉर्डर का मानना है कि इस पिच पर पहले बल्लेबाजी करने के वजह से ऑस्ट्रेलिया फिलहाल खेल में आगे चल रही है लेकिन टीम इंडिया की बल्लेबाजी देखने के बाद ही स्थिति और साफ हो पाएगी।