© Getty Images
© Getty Images

इंग्लैंड के बल्लेबाज डेविड मलान ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पर्थ टेस्ट के पहले दिन शानदार शतक लगा दिया। यह उनका टेस्ट क्रिकेट में पहला शतक है। मलान ने पहला टेस्ट शतक अपने आठवें टेस्ट में लगाया है। वह वाका पर्थ पर अपना पहला टेस्ट शतक लगाने वाले इंग्लैंड के पांचवें बल्लेबाज बन गए हैं। गौर करने वाली बात है कि साल 2013 में बेन स्टोक्स ने भी अपना पहला टेस्ट शतक इसी मैदान पर बनाया था। इसके अलावा मौजूदा टेस्ट सीरीज में यह किसी भी इंग्लैंड के बल्लेबाज के द्वारा लगाया गया पहला शतक है। इसके अलावा उनके साथी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने अपने 3,000 टेस्ट रन भी पूरे कर लिए हैं। बेयरस्टो ये अपना 48वां टेस्ट खेल रहे हैं।

मलान के शतक की मदद से इंग्लैंड ने पहले दिन का खेल खत्म होने तक अपनी स्थिति मजबूत कर ली है और 305-4 का स्कोर बना लिया है। क्रीज पर डेविड मलान 110*, जॉनी बेयरस्टो 75* खेल रहे हैं। एक समय इंग्लैंड ने 131 रनों पर अपने 4 विकेट गंवा दिए थे। ऐसे में लग रहा था कि शायद ही इंग्लैंड टीम 250 से ज्यादा स्कोर बना पाए लेकिन मलान एक तरफ से डटे रहे और बाद में जॉनी बेयरस्टो ने दूसरे छोर से उनका अच्छा साथ निभाया और शानदार अंदाज में अर्धशतक जमाया। दोनों बल्लेबाज अभी तक पांचवें विकेट के लिए 174 रन जोड़ चुके हैं। इंग्लैंड की ओर से मिचेल स्टार्क ने 2, हेजलवुड और पैट कमिंस ने 1-1 विकेट झटके हैं।

आज सुबह एलिस्टर कुक का विकेट जल्दी गंवाने के बाद पहला सेशन इंग्लैंड के लिए ठीक ठाक रहा। कुक जो अपना 150वां टेस्ट खेल रहे हैं। उन्होंने शुरुआत अच्छी की थी और उनके पैर अच्छी तरह से चल रहे थे लेकिन इसी बीच वह स्टार्क की फुल गेंद को चूक गए और एल्बीडब्ल्यू आउट हो गए। इसके बाद जेम्स विंस क्रीज पर आए। वहीं ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने मार्क स्टोनमैन को खूब शॉर्ट गेंदें डालीं और इस तरह से उनका इम्तेहान लिया। इस दौरान वह करीबी फील्डर से तीन बार कैच आउट होने से बचे। लेकिन जो भी शॉर्ट गेंदें उनकी रेंज में थीं उनको ड्राइव करने में उन्होंने कोई गुरेज नहीं किया।

विंस ने कमिंस की गेंद पर बेहतरीन कवर ड्राइव के साथ शुरूआत की थी और आउट होने के पहले वह बेहतरीन नजर आ रहे थे। जैसे ही पारी आगे बढ़ी स्टोनमैन शॉर्ट गेंदों के खिलाफ भी अच्छी तरह से बैटिंग करने लगे। जब लायन आए तो स्टोनमैन ने उन्हें आंखें जमाने का मौका नहीं दिया और आक्रमण कर दिया।

ऑस्ट्रेलिया के ब्रैड हॉज बने किंग्स इलेवन पंजाब के कोच
ऑस्ट्रेलिया के ब्रैड हॉज बने किंग्स इलेवन पंजाब के कोच

उन्होंने इस दौरान जमकर स्वीप शॉट्स का इस्तेमाल किया और लायन के छक्के छुड़ा दिए। इस पिच पर सभी के लिए कुछ न कुछ है लेकिन ये भी है कि यह एक फ्लैट ट्रेक है जिसमें ज्यादा स्विंग या सीम नहीं है। इसलिए रूट के लिए टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करना बेहतरीन रहा। हालांकि, रूट खुद 20 रन बनाकर आउट हुए। वहीं विंस ने 25 रन बनाए। अगर इंग्लैंड 400 रन बना पाती है तो वह इस टेस्ट में अपनी पकड़ मजबूत कर सकते हैं।