© Getty Images
© Getty Images

टेस्ट क्रिकेट के नंबर 1 बल्लेबाज स्टीवन स्मिथ ने इंग्लैंड के खिलाफ पर्थ टेस्ट के तीसरे दिन चायकाल के बाद शानदार अंदाज में दोहरा शतक लगा दिया। उन्होंने अपना दोहरा शतक 301 गेंदों में पूरा किया। दोहरा शतक लगाने के बाद स्मिथ खुशी से सराबोर हो गए और उन्होंने अपना हैलमेट उतारकर बैट हवा में लहराते हुए अपनी खुशी का इजहार किया।

स्मिथ साल 1993 के बाद एशेज में दोहरा शतक लगाने के वाले पहले टेस्ट कप्तान बन गए हैं। इसके अलावा स्मिथ साल 1971 के बाद से अपने घर पर एशेज सीरीज में दोहरा शतक जमाने वाले दूसरे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी हैं। उनके पहले यह कारनामा जस्टिन लैंगर ने एमसीजी में 250 रनों की पारी खेलने के साथ किया था।

स्मिथ का एशेज सीरीज में ये दूसरा दोहरा शतक है। पहला दोहरा शतक उन्होंने साल 2015 में लॉर्ड्स में लगाया था। इसके साथ ही वह एशेज सीरीज में दो या दो से ज्यादा दोहरे शतक लगाने वाले बल्लेबाजों की जमात में शामिल हो गए हैं। एशेज में सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने का रिकॉर्ड डॉन ब्रैडमैन के नाम है उन्होंने 8 दोहरे शतक लगाए हैं। दूसरे नंबर पर वैली हेमंड 4 दोहरे शतकों के साथ हैं वहीं तीसरे नंबर पर बॉब सिंपसन/स्टीवन स्मिथ 2-2 दोहरे शतकों के साथ हैं।

विशाखापत्तनम वनडे में एमएस धोनी बना सकते हैं ये 3 रिकॉर्ड्स
विशाखापत्तनम वनडे में एमएस धोनी बना सकते हैं ये 3 रिकॉर्ड्स

स्मिथ दूसरे ऑस्ट्रेलियाई गैर-ओपनर खिलाड़ी हैं जिन्होंने एशेज में अपने घर पर दोहरा शतक लगाया है। उनके पहले यह कारनामा आखिरी बार साल 1946 में डॉन ब्रैडमैन ने किया था।

वहीं दूसरी ओर मिचेल मार्श ने अपना पहला टेस्ट शतक जमा दिया है। इस तरह से वह अपने परिवार की ओर से एशेज में शतक लगाने वाले तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं। खबर लिखे जाने तक ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के पहली पारी में 403 के जवाब में 486/4 का स्कोर बना लिया है। स्मिथ 203 और मार्श 144 रन बनाकर खेल रहे हैं। ये मार्श परिवार की ओर से वाका पर बनाया गया सर्वोच्च टेस्ट स्कोर है। ये दोनों बल्लेबाज पांचवें विकेट के लिए 239 रनों की साझेदारी निभा चुके हैं।