australia vs england ecb confident ashes 2021 22 will go ahead as scheduled
इंग्लैंड क्रिकेट टीम @ICCTwitter

इंग्लैंड की टीम को साल के अंत में बहुप्रतीक्षित एशेज (The Ashes 2021-22) सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना है. लेकिन ऑस्ट्रेलियाई सरकार अपने देश में जारी कोविड- प्रोटोकॉल (Covid 19 Protocol in Australia) के तहत ऑस्ट्रेलियाई सरकार खिलाड़ियों के अपने साथ परिजनों को लाने की अनुमति नहीं दे रही है.

इसके चलते कई जानकार कयास लगा रहे हैं कि एशेज सीरीज खतरे में पड़ सकती है. इंग्लैंड के खिलाड़ियों के लिए यह लंबा दौरा है और वह अपने परिवार के बिना इस दौरे पर जाना नहीं चाहते हैं. खिलाड़ी चिंतित हैं कि उन्हें इस दौरे के दौरान लंबे क्वॉरंटीन और जैव सुरक्षित माहौल में भी रहना होगा और ऐसे में परिवार के बिना रहना चुनौतीपूर्ण होगा.

पेशेवर क्रिकेटर्स संघ के साथ पिछले कुछ समय से बातचीत जारी है तथा ईसीबी के मुख्य कार्यकारी टॉम हैरिसन ने भी स्वीकार किया कि अंतिम मंजूरी मिलने से पहले कई जटिलताएं लेकिन उन्होंने कहा कि जरूरी छूट दी जानी चाहिए.

उन्होंने भारत और इंग्लैंड के बीच लॉर्ड्स में दूसरे टेस्ट मैच के दौरान कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया में सरकारी स्तर पर बातचीत चल रही है और हम ब्रिटेन में अपने राजनयिक संबंधों का उपयोग करके यह सुनश्चित कर रहे हैं खिलाड़ियों और ईसीबी की राय पर भी गौर किया जाए.’

हैरिसन ने कहा, ‘खिलाड़ी कोई अनुचित मांग नहीं कर रहे हैं. वे ऑस्ट्रेलियाई सरकार से कुछ ढिलाई बरतने के लिए ही कह रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘यह बातचीत अगले कुछ सप्ताह तक चलेगी, लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि हम एक ऐसी स्थिति में पहुंचेंगे जहां हम दौरे के लिए अपने दायित्वों को पूरा कर सकते हैं.’

हैरिसन ने इन अटकलों को नकार दिया कि एशेज को एक साल के लिए स्थगित किया जा सकता है ताकि इंग्लैंड के प्रशंसक भी उसमें शामिल हो सकें. उन्हें यह भी नहीं लगता कि परिवार को साथ ले जाने की अनुमति न मिलने पर इंग्लैंड के खिलाड़ी दौरे से हट सकते हैं.’

उन्होंने कहा, ‘एशेज इंग्लैंड-भारत सीरीज की तरह वैश्विक क्रिकेट के लिए बेहद महत्वपूर्ण है. हम किसी भी तरह से सीरीज की अखंडता से समझौता नहीं करना चाहते हैं. हमारी तरह क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया भी इसका महत्व समझता है.’

(इनपुट: भाषा)